स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

BIG BREAKING: अगले 4 दिनों के लिये स्कूल बंद, जानिये कब से कब तक बंद रहेंगे स्कूल

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Sep 19, 2019 17:55 PM | Updated: Sep 19, 2019 17:55 PM

Mirzapur

जानिये क्यों जारी किया गया आदेश।

मिर्जापुर. यूपी में बाढ़ से हालात लगातार बेकाबू हो रहे हैं। खास तौर से पूर्वांचल के जिलों इलाहाबाद से लेकर बलिया तक गंगा में आयी बाढ़ की चपेट में है। हजारों गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं, जबकि लाखों की तादाद में लोगों ने सुरक्षित ठिकानों पर पनाह ली है। बाढ़ की विभीषिका को देखते हुए जिला प्रशासन ने स्कूलों को बंद करने का आदेश दे दिया है। 19 सितंबर से लेकर 22 सितम्बर तक बाढ़ प्रभावित इलाकों के प्राइमरी स्कूल बंद रहेंगे।

प्रभारी बीएसए व सीडीओ प्रियंका निरंजन ने इसका आदेश जारी कर दिया है। जिले में सबसे ज्यादा प्रभावित सदर तहसील और चुनार तहसील के 72 प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय बंद रहेंगे। प्रियंका निरंजन का कहना है कि जिलाधिकारी के मौखिक आदेश के बाद बाढ़ प्रभावित इलाकों से मिली रिपोर्ट के आधार पर तटवर्ती इलाकों के सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है। इस इलाके के स्कूल या तो बाढ़ के पानी में डूब गए हैं या फिर स्कूल जाने के रास्ते पर पानी भर चुका है।

बता दे कि जिले की सदर तहसील में 300 और चुनार तहसील में 181 गांवों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। गंगा के तटवर्ती इलाकों खासतौर से चील्स के मल्लेपुर और हरसिंगारपुर गांव में 60 से अधिक घरों में पानी घुस चुका है। बाढ़ के चलते लोग परेशान हैं। इलाके के नौ गांव बाढ़ प्रभावित हैं। इसी तरह सीखड़ के मगहरहा, धन्नोपुर, पिपराही, पसियाही, बिदापुर, धनैता, भगीरथपुर, डोमनपुर, हासिपुर, छिटकपुर व रामग़ढ़ प्रेमापुर बाढ़ से प्रभावित हैं। इनमें से कुछ गांवों में बाढ़ का पानी पहुंच चुका है, जबकि कई गांवों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है। सदर और चुनार से प्रशासन ने 50 से अधिक मवेशियों का रेस्क्यू भी किया है।

By Suresh Singh