स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बीएचयू से आरएसएस का झंडा उखाड़ने वाली डिप्टी चीफ प्रॉक्टर के समर्थन में आयी कांग्रेस

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Nov 14, 2019 13:11 PM | Updated: Nov 14, 2019 13:11 PM

Mirzapur

विवाद को लेकर शुरू हुई सियासत।

मिर्ज़ापुर. बनारस हिन्दू युनिवर्सिटी (Banaras Hindu University) के मिर्जापुर स्थित बरकछा साउथ कैम्पस में बीएचयू (BHU) के डिप्अी चीफ प्रॉक्टर द्वारा आरएसएस की ध्वजा उखाड़ने का मामला अब सियासी रंग लेता नजर आ रहा है। छात्रों द्वारा परिसर में संघ की प्रात: कालीन शाखा में डिप्टी चीफ प्रॉक्टर किरण दामले के आरएसएस (RSS) के भगवा ध्वज को उखाड़ने के मामले में देहात कोतवाली में एफआईआर दर्ज होने के बाद अब इस प्रकरण में कांग्रेस भी कूद पड़ी है। कांग्रेस पूरे प्रकरण में दामले के पक्ष में खड़ी हो गयी है। दामले पर दर्ज मुकदमे पर आपत्ति जताते हुए कांग्रेस (Congress) नेताओं ने बीएचयू के प्रभारी से मुलाकात कर उनके खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध किया।

माड़िहान से कांग्रेस के पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी (Lalitesh Pati Tripathi) के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का एक प्रतिनिधिमंडल बीएचयू के बरकछा कैम्पस पहुंचा और वहां पर कॉलेज की प्रभारी प्रोफ़ेसर रामादेवी से मुलाकात कर उन्हें अपना ज्ञापन सौंपा, जिसमें डिप्टी चीफ प्रॉक्टर दामले पर दर्ज कराए गए मुकदमे का विरोध किया गया। साथ ही कांग्रेस नेताओं ने पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह से भी मुलाकात कर मामले में निष्पक्ष जांच का अनुरोध किया।

बताते चलें कि बीते मंगलवार की सुबह विद्यालय परिसर में छात्रों द्वारा संघ की शाखा लगाए जाने के दौरान डिप्टी चीफ प्रॉक्टर किरण दामले ने आर एस एस के ध्वज को वहां से उखाड़ लिया था। इसके बाद छात्रों ने कॉलेज के प्रशासनिक भवन के पास धरना-प्रदर्शन और विरोध करना शुरू कर दिया। देर शाम आर एस एस के पदाधिकारी की तहरीर पर पुलिस ने देहात कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कर इस पूरे प्रकरण की जांच शुरू की। जिस तरह से कांग्रेस ने इस प्रकरण में कूदकर डिप्टी चीफ प्रॉक्टर किरण दामले का समर्थन किया है उससे यह मामला तौर तूल पकड़ता दिखायी दे रहा है।

By Suresh Singh

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]