स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विंध्याचल मंदिर में दर्शन कराने को लेकर हुआ विवाद आपस में भिड़े पुलिस और पंडा

Ashish Kumar Shukla

Publish: Dec 01, 2019 21:50 PM | Updated: Dec 01, 2019 21:50 PM

Mirzapur

पुलिस ने स्थानीय एक पंडा का 151 में चालान किया है और विंध्याचल कोतवाली में तीन ज्ञात और छह अज्ञात पंडा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है

मिर्ज़ापुर. विंध्याचल स्थित विंध्यवासनी मंदिर में निकास द्वारा से दर्शन कराने को लेकर स्थानीय पंडा और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की और नोकझोंक हुई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासान के अधिकारी मंदिर पर पहुचकर मामले को शांत करवाया। पुलिस ने स्थानीय एक पंडा का 151 में चालान किया है और विंध्याचल कोतवाली में तीन ज्ञात और छह अज्ञात पंडा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार विंध्याचल मंदिर के निकास द्वार से कुछ पंडा अपने जजमानों को भीड़ लगाकर दर्शन पूजन करा रहे थे। तभी वहां ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों द्वारा इस पर आपत्ति जताई गयी और इसे रोका गया। इस पर पंडा और पुलिसकर्मियों के बीच धक्का मुक्की, गाली गलौज और नोकझोंक होने लगी।

जिस पर स्थानीय लोगो ने बीच बचाव कर मामला शांत करवाया। मगर वहाँ पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने स्थानीय अनिकेत उपाध्याय को हिरासत में लेकर शान्ति भंग की धारा 151 में चालान किया। वही पूरे प्रकरण विंध्याचल कोतवाली में उप निरीक्षक अजय कुमार यादव के तहरीर पर आईपीसी कि धारा 147,186,323,353,504,506 के तहत अनिकेत उपाध्याय, भोला त्रिपाठी और मुकेश मिश्रा सहित छह अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच पड़ताल कर रही है।

[MORE_ADVERTISE1]