स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

'आत्मा की गवाही' के बाद खुला 11 साल पहले हुई हत्या का केस, पुलिस भी हैरान

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Sep 06, 2019 15:14 PM | Updated: Sep 06, 2019 15:14 PM

Mirzapur

स्कूल प्रबंधक पर हत्या कर जमीन में शव को गाड़ने का लगाया आरोप, ग्रामीणों के आक्रोश के बाद एक्टिव हुई पुलिस

मिर्जापुर. आज के वैज्ञानिक युग में भूत प्रेत की कहानियां अक्सर सामने आती रहती है । कोई भूत-प्रेत आत्माओं की शक्तियों पर विश्वास करता है, तो कई लोग इसे महज अफवाह मानते हैं । मिर्जापुर जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके बाद पुलिस भी हैरान है । दरअसल यहां आत्मा की गवाही के बाद 11 साल पहले हुई हत्या का केस खोल दिया गया है और अब पुलिस जांच में जुटी है ।

क्या है पूरा मामला:
चंदौली के एक स्कूल के बाथरूम में एक छात्र 29 अगस्त को बेहोश होकर गिर गया था, जब छात्र को होश आया तो उसने 11 साल पुराने हुई हत्या की एक कहानी सुनाई । छात्र ने आर्यन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक पर एक छात्र की हत्या का आरोप लगाया, जिसके बाद हंगामा मच गया । सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण जुट गये, पुलिस के हस्तक्षेप से मामला शांत हुआ, मगर अब मिर्जापुर से लापता बच्चे के परिजन पुलिस के पास पहुंच गये हैं । मामले को लेकर 'आत्मा की गवाही' के आधार पर मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है ।

मिर्जापुर के जमालपुर थाना क्षेत्र के विसौरा कलां गांव की रहने वाली गीता देवी आर्यन पब्लिक स्कूल में परिचारिका है। 29 अगस्त को उसके भतीजे को अचानक भूत-प्रेत का दौरा आया और वह बेहोश हो गया । होश में आने के बाद वह चीखने-चिल्लाने लगा कि मैं गीता का लड़का हूं और स्कूल प्रबंधक ने 2008 में मुझे मारकर शौचालय के पास जमीन में दफन कर दिया था। महिला गीता देवी ने बताया कि 2008 में पुत्र के गायब होने की गुमशुदगी उसने जमालपुर थाने पर दर्ज कराई गई थी, मगर बेटे का कहीं पता नहीं चल पाया था। 11 साल अचानक इस प्रकरण के बाद पुलिस ने गांव में जाकर लोगों से पूछताछ की और मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है।