स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुआवजे के लिये 49 दिन से धरने पर बैठे हैं किसान, अर्धनग्न होकर किया प्रदर्शन, दी यह चेतावनी

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Oct 13, 2019 21:56 PM | Updated: Oct 13, 2019 21:56 PM

Mirzapur

किसानों के मुताबिक जिला प्रशासन के अधिकारी भी उनकी समस्या के समाधान के लिए कोई रुचि नही ले रहे हैं ।

मिर्जापुर. जनपद में जमीन के मुवाबजे को लेकर पिछले 49 दिनों से धरनारत किसानों ने जिला प्रशासन के खिलाफ अर्धनग्न हो कर प्रदर्शन किया। किसान समस्या की सुनवाई नहीं होने से नाराज है।किसानों के मुताबिक जिला प्रशासन के अधिकारी भी उनकी समस्या के समाधान के लिए कोई रुचि नही ले रहे है। किसानों ने आगे भी धरना प्रदर्शन जारी रखने की बात कर रहे हैं। 15 अक्टूबर तक समस्या के समाधान नही होने पर बड़े आंदोलन की तैयारी है।

चुनार के सुंदरपुर गांव के पास लगातार 49 दिनों से किसानों का धरना जारी है। वहीं 19 दिनों से दो किसान अनशन भी कर रहे हैं, जिनकी हालत नाजुक होती जा रही है। किसानों का आरोप है कि सर्किल रेट के हिसाब से 25 से 30 लाख रुपए बिस्वा जमीन का कीमत है, जबकि किसानों को मात्र 2 लाख रुपए बिस्वा के हिसाब से ही मुआवजा दिया जा रहा है। इसी के विरोध में आक्रोशित किसानों ने अर्धनग्न होकर जिला प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किए। एसडीएम चुनार जब वार्ता के लिये पहुंचे किसानों ने कहा कि पूरी की पूरी अधिग्रहण प्रकिया ही गलत है। जिला प्रशासन और सरकार दोनों को चाहिए कि इसमें जो भी गलतियां हुई हैं, उसका जल्द से जल्द समाधान होना चाहिए।

वहीं किसानों के नेता राजा राम पटेल ने कहा कि जिला प्रशासन किसानों को कमजोर समझने की भूल कदापि न करे। किसान भीख नहीं मांग रहा है। किसान अपना हक मांग रहा है। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि 49 दिनों से किसान धरने पर बैठे हैं, एक भी जिले का जिम्मेदार अधिकारी या जनप्रतिनिधि किसानों के बीच नहीं पहुंचा। 15 अक्टूबर तक यदि समस्या का समाधान नहीं किया जाता है तो किसान कुछ भी कर सकते हैं जिसकी सारी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।

BY- SURESH SINGH