स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस डेढ़ लाख की 'पकौड़ी' से कांपते थे सभी, महिला ग्राम प्रधान के सामने पहुंचने पर हाल ये हुआ

Sanjay Kumar Sharma

Publish: Oct 20, 2019 07:15 AM | Updated: Oct 20, 2019 06:25 AM

Meerut

Highlights

  • डेढ़ लाख का इनामी बदमाश था संजीव पकौड़ी
  • महिला ग्राम प्रधान का दो बार सुहाग उजाड़ चुका था
  • सुरक्षाकर्मियों के जवाबी हमले में जंगल में छिप गया था

मेरठ। मेरठ समेत वेस्ट यूपी के अन्य जनपदों में आतंक का पर्याय बन चुके संजीव पकौड़ी को शनिवार की रात पुलिस ने सरूरपुर के गांव कक्केपुर के जंगल में मुठभेड़ में मार गिराया। पुलिस के अनुसार संजीव पकौड़ी पर सरूरपुर थाना मेरठ से एक लाख, बागपत के छपरौली थाने से दोहरे हत्याकांड में 25 हजार, भोजपुर गाजियाबाद से 25 हजार का इनाम था।

यह भी पढ़ेंः Meerut: जमीन के विवाद में अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या, सुरक्षा की मांग की थी, घर में मच गया कोहराम, देखें वीडियो

पुलिस के मुताबिक सरूरपुर खुर्द के संजीव पकौड़ी ने 2012 में गांव के प्रधान नीटू की हत्या कर दी थी। नीटू की पत्नी कविता ने अपने देवर परविंदर से शादी कर ली थी। 2015 में कविता ग्राम प्रधान बनी थी। साल 2017 में संजीव ने परविंदर की भी हत्या कर दी थी। उसके बाद से प्रधान कविता को भी जान का खतरा था।

यह भी पढ़ेंः Weather Alert: दीपावली की रात रहेगी सबसे ठंडी, सूरज की आंखमिचौली के बीच इतना बदलेगा मौसम

पुलिस के मुताबिक संजीव प्रधान कविता की हत्या करने के लिए शनिवार को तीन साथियों के साथ गांव में पहुंचा था। उसने कविता पर गोलियां चला दीं। कविता के सुरक्षाकर्मियों ने जवाबी फायरिंग की तो संजीव पकौड़ी साथियों के साथ बाइक से जंगल की तरफ भाग निकला। इसके बाद सरूरपुर थानाध्यक्ष सतीश कुमार ने कक्केपुर के जंगल में घेराबंदी कर संजीव को मार गिराया। संजीव पकौड़ी के सीने में गोली लगी। उसके साथी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले।