स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस ने काटा इस आदमी का चालान तो बदले में इसने उड़ा दी पूरे थाने की नींद, ऐसे लिया बदला

Virendra Kumar Sharma

Publish: Sep 21, 2019 14:25 PM | Updated: Sep 21, 2019 14:25 PM

Meerut

traffic-police-cut-chalan-je-turned-dark-in-police-station

 

Highlights

. स्कूटी से जा रहे जेई को रोका था हेड कांस्टेबल ने
. उनका काट दिया चालान
. गुस्साए जेई ने भी उठाया कदम

 

मेरठ. नए मोटर व्हीकल एक्ट को लेकर आए दिन सड़क पर विवाद हो रहे हैं। भारी भरकम चालान से बचने के लिए पुलिस और आमलोगोंं के बीच नोंक-झोंक होना आमबात हो गई है। मेरठ में भी एक दिलचस्प मामला सामने आया है। गुरुवार रात तेजगढी चौराहे पर ट्रैफिक हवलदार ने बिजली विभाग के एक जेई की स्कूटी का चालान कर दिया। पुलिस और बिजली विभाग के जेई के बीच विवाद बढ़ा तो मामला तूल पकड़ा। सीनियर अफसरों के हस्तक्षेप के बाद मामले को सुलझाया गया।

सहारनपुर निवासी सोमप्रकाश गर्ग मेडिकल क्षेत्र के बिजली सब स्टेशन पर बतौर जेई के पद पर तैनात हैं। ये गुरुवार रात स्कूटी पर सवार होकर तेजगढ़ी चौराहे पर पहुंचे थे। यहां ट्रैफिक पुलिस के हेड कांस्टेबल राजेश कुमार ने उनसे कागजात की जांच के लिए रोक लिया। पुलिस का कहना है कि उन्होंने हेलमेट भी नहीं लगाया हुआ था। साथ ही प्रदूषण जांच न होने पर चालान किया गया है। चालान कटने सेे नाराज जेई ने कर्मचारियों को बुलाकर थाना मेडिकल और तेजगढ़ी चौकी की बिजली कटवा दी। जिसके बाद मौके पर हड़कंप मच गया। जब जेई से बिजली जोड़ने के लिए कहा गया तो उन्होंने विभाग के अधिकारियों को थाने पर करीब डेढ़ लाख रुपये का बिजली का बकाया बिल बताया। इसके अलावा तेजगढ़ी चौकी पर बिजली चोरी करने का आरोप लगाया।

हालांकि अधिकारियों के हस्ताक्षेप के कारण थाने की बिजली तो जोड़ दी गई। लेकिन चौकी पर बिजली चोरी करने का आरोप लगाकर उन्होंने बिजली जोडऩे से साफ इंकार कर दिया। हेड कांस्टेबल राजेश कुमार का कहना है कि जेई शराब के नशे में थे। वहीं, ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन में चालान काटा गया था।