स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक महिला से बलात्कार मामले में 26 लोगों को भेजा जेल, जमानत पर छूटे तो खुला राज, देखें वीडियो-

lokesh verma

Publish: Jul 20, 2019 14:12 PM | Updated: Jul 20, 2019 14:12 PM

Meerut

खबर के मुख्य बिंदु-

  • मेरठ शहर के नौचंदी थाना क्षेत्र का मामला
  • पुलिस कप्तान से मिलकर महिला पर लगाए गंभीर आरोप
  • एसएसपी अजय साहनी ने दिए पूरे प्रकरण में जांच के आदेश

मेरठ . मेरठ में दुष्कर्म का एक ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है, जिसमें एक महिला ने करीब 26 लोगों पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराकर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। कई दिन बाद जमानत पर जेल से बाहर आए लोगों का कहना है कि आज तक उन्होंने उस महिला को देखा तक नहीं है। पुलिस कप्तान के पास पहुंचे लोगों का कहना है कि महिला ने रुपयों के लालच में उनके खिलाफ झूठा केस दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने महिला से सौदेबाजी करते हुए रुपये दे दिए हैं, वह जेल जाने से बच गए हैं। महिला पीड़ित लोगों ने एसएसपी अजय साहनी काे इसके सबूत देते हुए जांच की मांग की है। इस पर एसएसपी ने पूरे प्रकरण की जांच के आदेश दे दिए हैं।

यह भी पढ़ें- VIDEO: रिटायर हेड क्लर्क की धारदार हथियार से काटकर हत्या, देखने वालों के उड़ गए होश

दरअसल, नौचंदी थाना क्षेत्र के सोहराब गेट बस स्टैंड के पास रहने वाले डाॅ. तैमूर और डाॅ. नासिर समेत करीब दो दर्जन लोग जिले के पुलिस कप्तान के सामने पेश हुए। जिन पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। इनमें से अधिकांश ऐसे युवक थे, जिन्होंने दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला को देखा तक नहीं है। उनका आरोप है कि एक महिला ने थानों में उनके खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए जेल भिजवा दिया था। अब जमानत पर बाहर आने के बाद महिला उनसे समझौता करने की एवज में रुपये की मांग कर रही है।

यह भी पढ़ें- 13 साल की लड़की को अगवा कर दो युवकों ने किया गैंगरेप, न्याय के लिए थाने के चक्कर काट रहे परिजन

तैमूर नामक युवक ने एसएसपी को बताया कि उसके खिलाफ मेडिकल थाने में शास्त्रीनगर निवासी युवती ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। तैमूर ने खुद को बेकसूर बताते हुए एक वीडियो कप्तान को दिखाने के बाद मीडिया में वायरल कर दिया। वीडियो में तैमूर पीड़िता के घर में बैठा दिखाई दे रहा है। वह पीड़िता और उसकी बहन से समझौता करने के लिए सौदेबाजी शुरू कर देता है। युवतियों को तैमूर ने पैसों का लालच दिया, जिस पर उन्होंने समझौता करने के लिए दो लाख रुपये की मांग की। तैमूर डेढ़ लाख देने की बात कहता है, लेकिन बात नहीं बनती। वीडियो दिखाते हुए दुष्कर्म के आरोपियों ने पीड़िता पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया। आरोपियों का कहना है कि महिला अमीर लोगों को अपने जाल में फंसा लेती है। महिला के चार बेटियां भी बताई जा रही हैं। महिला पर देह व्यापार का भी आरोप लगा है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..