स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मामा को डराने के लिए भांजे ने की ऐसी काॅल कि लखनऊ तक हिल गया पुलिस प्रशासन

Sanjay Kumar Sharma

Publish: Aug 19, 2019 12:11 PM | Updated: Aug 19, 2019 12:11 PM

Meerut

खास बातें

  • प्रिंटिग प्रेस के कर्मचारी के पास आया फोन
  • जांच एजेंसियां सूचना मिलने पर हरकत में आयी
  • कड़ी पूछताछ पर नाबालिग भांजे ने बताई वजह

मेरठ। प्रिटिंग प्रेस पर कर्मचारी के मोबाइल पर फोन आया, लेकिन काम की व्यस्तता के कारण वह फोन नहीं उठा सका। जब उसने मिस काल नंबर पर दोबारा फोन किया तो उधर से फोन नहीं उठा, काल बैक आई। जिस पर ऊधर से किसी ने कहा कि सब इंतजाम हो गए हैं। मेरठ हथियार पहुंच चुके हैं। बम से उड़ा दिया जाएगा। बस डेट तय होनी बाकी है। यह सुनकर कर्मचारी के होश उड़ गए। उसने इसकी सूचना अपने मालिक और डायल 100 को दी।

यह भी पढ़ेंः Alert: मौसम विभाग ने बारिश को लेकर दी बड़ी चेतावनी, ग्रामीणों के लिए अलर्ट जारी

बम धमाके की सूचना से मच गया हड़कंप

पुलिस अधिकारियों को यह सूचना मिली तो उनके भी होश उड़ गए। उन्होंने आलाधिकारियों को इसकी सूचना उपलब्ध कराई। मेरठ में बम धमाके करने की सूचना से लखनऊ तक हड़कंप मचा गया। इसके बाद एटीएस, एलआईयू और इंटेलीजेंस ब्यूरो की टीमें सक्रिय हो उठी। जांच में पता चला कि नाबालिग लड़के ने अपने मामा को डराने के लिए यह कॉल की थी।

यह भी पढ़ेंः दिव्यांग के धर्म परिवर्तन की कोशिश पर हुआ जमकर हंगामा, पुलिस ने आरोपी को छोड़ा

प्रेस मालिक ने कंट्रोल रूम को जानकारी

मेरठ के थाना टीपीनगर थाना क्षेत्र स्थित मोहकमपुर फेस-वन में एक प्रिंटिंग प्रेस है। जिसमें युवक मोहित काम करता है। उसके मोबाइल नंबर पर शाम को किसी अज्ञात नंबर से मिस कॉल आई। उसने बैक कॉल की तो कॉल नहीं उठी। इसके बाद फिर से काल आई तो युवक ने कहा कि जुबैर भाई सामान लेकर आ गए हैं। पूरी व्यवस्था हो गई है। मेरठ को जल्द बम से उड़ा दिया जाएगा। फोन पर यह सुनते ही मोहित के होश उड़ गए। उसने प्रेस मालिक भागेंद्र सिंह को सूचित किया। उसने डायल 100 पर लखनऊ कंट्रोल रूम को सूचना दी तो हड़कंप मच गया। थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच इसकी जानकारी ली।

यह भी पढ़ेंः योगी मंत्रिमंडल के लिए विधायकों में चल रही खींचतान, दौड़ में ये दिग्गज शामिल

पुलिस ने दाेनाें काे पकड़कर की पूछताछ

पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर इंचैली थाना क्षेत्र के नया गांव निवासी 12वर्षीय आदित्य तक पहुंच गई। आदित्य ने पुलिस को बताया कि फुफेरे भाई बिजेंद्र ने कॉल की थी। पुलिस आदित्य और बिजेंद्र को उठाकर टीपीनगर थाने ले आई। इसके बाद यूपी एटीएस, एलआईयू और इंटेलीजेंस की टीम ने दोनों से अलग-अलग पूछताछ की। युवक बिजेंद्र ने बताया कि उनका मकसद अपने मामा मोहित को डराने का था, इसलिए वह कॉल कर इस तरह की बातें कर रहा था। इसके बाद सभी ने राहत की सांस ली। दोनों को पूछताछ के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..