स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Meerut: 24 घंटे तक अंधेरे में डूबा रह थाना, पुलिस चौकी में अब भी नहीं है लाइट, जानिए क्‍या है पूरा मामला- देखें वीडियो

sharad asthana

Publish: Sep 21, 2019 11:27 AM | Updated: Sep 21, 2019 11:29 AM

Meerut

Highlights

  • अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद बहाल हो पाई बिजली
  • थाने पर है 1 लाख 67 हजार रुपये का बिल बकाया
  • चौकी पर बिजली चोरी की वजह से अब भी नहीं जुड़ा कनेक्‍शन

मेरठ। बिजली विभाग ने गुरुवार को मेडिकल थाने और तेजगढ़ी पुलिस चौकी की बिजली काट दी थी। इससे करीब 24 घंटे तक वहां रिपोर्ट नहीं दर्ज हो पाई। इसकी वजह पुलिस द्वारा जेई का चालान काटना बताया जा रहा है। हालांकि, बिजली अधिकारी इससे इंकार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: भाजपा विधायक से परेशान BJP नेत्री आज करेंगी आत्मदाह, बड़े नेता और अधिकारी मनाने पहुंचे

बिजली विभाग ने दी सफाई

शुक्रवार को अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद बिजली जोड़ दी गई। वहीं, बिजली विभाग ने जेई द्वारा लाइन काटे जाने पर सफाई भी पेश की है। अधीक्षण अभियंता अरुण कुमार पाठक ने बताया कि इन दिनों बकाया वसूली को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। इसको लेकर थाने और चौकी की बिजली काटी गई थी। यह इत्‍तेफाक ही है कि जेई का चालान काट दिया गया और इस प्रकरण को उससे जोड़ दिया गया। शुक्रवार देर शाम बिजली का कनेक्शन जोड़ दिया गया। थाने पर करीब 1 लाख 67 हजार रुपये का बिल बकाया है।

यह भी पढ़ें: Dussehra से पहले बैंकों में हाेने जा रही है हड़ताल, केवल तीन दिन खुलेंगे बैंक

स्‍कूटी का हुआ था चालान

बता दें कि सहारनपुर निवासी जेई सोमप्रकाश गर्ग मेडिकल बिजली घर में तैनात हैं। गुरुवार को उनकी स्कूटी का चालान काट दिया गया था। बताया जा रहा है क‍ि इसके बाद उन्‍होंने मेडिकल थाने और तेजगढ़ी पुलिस चौकी की बिजली काट दी थी। बिजली कटने के बाद से चौकी का इनवर्टर ठप हो गया था। वायरलेस सेट की बैटरी भी बंद हो गई थी। मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंचा तो थाने की बिजली को जोड़ दिया गया। जबकि चौकी की बिजली नहीं जोड़ी गई। इसकी वजह बिजली चोरी को बताया गया। अधीक्षण अभियंता अरुण कुमार पाठक का कहना है कि एसडीओ को इस पूरे मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर