स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डेंगू के 100 से ज्यादा मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप, इससे बचने के लिए करें ये उपाय

Sanjay Kumar Sharma

Publish: Oct 20, 2019 18:55 PM | Updated: Oct 20, 2019 18:55 PM

Meerut

Highlights

  • स्वास्थ्य विभाग नहीं लगा पा रहा डेंगू पर अंकुश
  • मौसम में परिवर्तन के साथ डेंगू के मरीज बढ़ गए
  • वेस्ट यूपी के कई जनपदों से मेरठ आ रहे मरीज

मेरठ। मौसम में परिवर्तन के साथ ही डेंगू के मरीज बढ़ते जा रहे हैं। मेरठ ही नहीं वेस्ट यूपी के अन्य जनपदों से भी यहां मरीज आ रहे हैं। हाल ही सात नए मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से डेंगू पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। अभी तक मेडिकल कालेज और जिला अस्पताल की लैब से अभी तक 104 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है।

यह भी पढ़ेंः नई नीति से मुआवजा न मिलने के विरोध में पानी की टंकी पर चढ़े किसान, मचा हड़कंप, देखें वीडियो

डेंगू के सात नए मरीज मिले

डेंगू में सिर और जोड़ों में दर्द के साथ तेज बुखार, जी मिचलाना, उल्टी होना, गंभीर हालत में नाक-मुंह से खून आने की शिकायत रहती है। ऐसी शिकायतें मिलने पर मेडिकल कालेज और जिला अस्पताल की लैबों में डेंगू की जांच की गई तो अब तक 104 मरीजों की डेंगू की पुष्टि हुई है। सात नए मरीजों में मेरठ की 25 वर्षीय युवती व 80 वर्षीय बुजुर्ग, सरधना के 50 वर्षीय व्यक्ति, 13 वर्षीय किशोर, सरधना के 21 वर्षीय युवक, अलीपुर खरखौदा की 25 वर्षीय महिला और बुलंदशहर का 28 वर्षीय व्यक्ति शामिल है। सीएमओ डा. राजकुमार का कहना है कि मच्छर जनित रोगों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयास कर रहा है। इसमें एंटी लार्वा स्प्रे, फॉगिंग करा रहा है, जहां लार्वा मिल रहे हैं उन स्थानों को नोटिस दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः CCS University: स्टूडेंट्स के लिए राहत, डिग्री पूरी करने का मिलेगा मौका, इतनी होगी फीस

डेंगू से बचने के लिए ये करें

- बारिश के दिनों में फुल शर्ट ही पहनें, पावों में जूते जरूर पहनें, शरीर को कहीं से भी खुला न छोड़ें।

- घर के आसपास या घर के अंदर पानी नहीं जमने दें। कूलर, गमले, टायर इत्यादि में जमे पानी को तुरंत बहा दें।

- कूलर में यदि पानी है तो इसमें केरोसिन तेल डालें जिससे कि मच्छर पनप ना पाये।

- मच्छरदानी का उपयोग करें और मच्छरों को दूर करें।

- डेंगू होने पर परहेज करते रहें, जिससे वायरस दूसरों तक न पहुंचे।

- रोगी को लगातार पानी देते रहें नहीं तो शरीर में पानी की कमी हो सकती है।

- रोगी के खून में यदि प्लेटलेट्स की संख्या बहुत कम हो जाए या फिर रक्त स्त्राव शुरू हो जाए तो खून चढ़ाना भी पड़ सकता है।

- खुद से कोई दवा न लें, यदि आपने गलती से एस्प्रिन या कोई और गैर स्टेरायड दवाएं ली तो रक्तस्त्राव बढ़ सकता है।