स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कांग्रेस हाईकमान ने प्रदेश के लिए तैयार किया ये खास प्लान, पार्टी नेताओं में बढ़ी बेचैनी

Sanjay Kumar Sharma

Publish: Aug 17, 2019 14:36 PM | Updated: Aug 17, 2019 14:36 PM

Meerut

खास बातें

  • संगठन की पहली ही बैठक में दे दिए बदलाव के संकेत
  • जमीनी और तेज-तर्रार कार्यकर्ताओं को लाएंगे आगे
  • लापरवाह कांग्रेसियों की सूची तैयार करने के निर्देश

मेरठ। देश और प्रदेश में अपने बुरे दौर से गुजर रही कांग्रेस को सोनिया गांधी के रूप में नया अध्यक्ष तो मिल गया, लेकिन कांग्रेसियों में कहीं चुस्ती दिखाई नहीं दे रही। हताश और निराश कांग्रेसियों को अब दरकिनार करने के लिए संगठन में सुगबुगाहट चल रही है।

यह भी पढ़ेंः छेड़छाड़ से परेशान बेटी ने छोड़ा ट्यूशन, सीएम से गुहार लगाने के बाद हरकत में आयी पुलिस

जनाधार के लिए नए सिरे से तैयारी

2019 लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से पराजित हुई कांग्रेस अब लोगों के बीच नए सिरे से अपना जनाधार बढ़ाने की दिशा में काम करने का खाका तैयार कर रही है। कांग्रेस के सुस्त और लापरवाह नेताओं पर नई पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का चाबुक चल सकता है। जिला स्तर पर भी इस बारे में साफ संदेश दे दिया गया है कि जो नेता सुस्त दिखें उसे संगठन या फिर पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाए।

यह भी पढ़ेंः पत्नी को चाकू मारकर पति बोला- तलाक, विरोध करने पर सास की भी पिटाई, फिर लोगों ने किया ये काम

पहली बैठक में बदलाव के संकेत

सोनिया गांधी ने अपनी पहली बैठक में ही बदलाव के संकेत देते हुए संगठन में निचले स्तर, जिला और ब्लॉक स्तर बड़े बदलाव के संकेत दिए हैं। इसके साथ ही पार्टी अब अपने जिला और ब्लाक स्तर के पदाधिकारियों पर भरोसा जताने के साथ ही उन्हें निर्णय लेने के अधिकार देने की भी पहल करेगी। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अभिमन्यु त्यागी ने बताया कि सोनिया गांधी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद से प्रदेश और जिला स्तर पर पदाधिकारियों के बदलने की बात कही जा रही है। इस बदलाव का निश्चित रूप से कांग्रेस को लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़ेंः दूसरे जुमे पर भी दिखा आदेश का खौफ, सड़क पर नहीं हुई नमाज, देखें वीडियो

लालच के लिए पद पर बने हुए

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कहा कि कुछ लोग पार्टी में सिर्फ पद के लालच में बने हुए हैं जबकि जमीनी स्तर पर उन्होंने कहीं काम नहीं किया है। ऐसे लापरवाह पदाधिकारियों की सूची तैयार कर उनकेे स्थान पर तेजतर्रार कार्यकर्ताओं को आगे लाया जाएगा। ऐसे कार्यकर्ताओं को महत्वपूर्ण पद से नवाजा जाएगा। जिससे पार्टी तेजी पकड़ सके। जिला स्तर पर इस बारे में साफ संदेश दे दिया गया है कि जो नेता सुस्त दिखें उसे संगठन या फिर पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाए। अभिमन्यु त्यागी के अनुसार आज भले ही कांग्रेस सत्ता में नहीं है लेकिन देश में इससे मजबूत संगठन और कोई दूसरा नहीं है। इसी सोच को आगे बढाते हुए कांग्रेस में बदलाव करने की दिशा में जल्द ही कई कदम उठाए जाएंगे।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..