स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Breaking: थाने के सामने खुद को आग लगाने वाले व्यापारी की मौत, घर में मचा कोहराम, व्यापारियों में गुस्सा, देखें वीडियो

Sanjay Kumar Sharma

Publish: Jul 20, 2019 17:29 PM | Updated: Jul 20, 2019 17:29 PM

Meerut

खास बातें

  • पुलिस की कार्यप्रणाली के कारण पेट्रोल छिड़ककर लगाई थी आग
  • 80 प्रतिशत झुलसी हालत में किया गया था दिल्ली के लिए रेफर
  • थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवार्इ को लेकर व्यापारियों ने की मांग

मेरठ। पुलिस की लापरवाही के सिस्टम की भेंट एक और जान चढ़ गई। दो दिन पहले टीपी नगर थाने के सामने जिस व्यापारी ने अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगाई थी उसकी शनिवार को दिल्ली के अस्पताल में मौत हो गई। व्यापारी की हालत काफी गंभीर थी और उसकी दोनों किडनियों ने काम करना बंद कर दिया था। जिसके चलते उसको वेंटीलेटर पर रखा गया था, लेकिन आज सुबह दस बजे व्यापारी ने अंतिम सांस ली। व्यापारी की मौत से परिजनाें में कोहराम मच गया। पुलिस लापरवाही के चलते व्यापारी की मौत के बाद उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार संगठन के पदाधिकारी आईजी से मिले।

यह भी पढ़ेंः इस संगठन ने सोनभद्र नरसंहार का आरोप आईएएस पर लगाया, राज्यपाल से की ये मांग, देखें वीडियो

व्यापारियों ने पूरे थाने को जिम्मेदार बताया

संगठन के पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि व्यापारी रणजीत की मौत का जिम्मेदार पूरा थाना है। थानेदार प्रमोद गौतम ने पूरे प्रकरण में लापरवाही बरती है। इसलिए थानेदार को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए। आरोप लगाया कि मृतक रणजीत के पार्टनर ने बैंक मैनेजर से सांठगाठ कर उनकी गुप्त जानकारियों को बैंक से निकलवा लिया और उसके बाद उनका गलत प्रयोग किया। बता दें कि व्यापारी रणजीत ने एक मुकदमा बैंक के मैनेजर के खिलाफ दर्ज कराया था, जिसमें बैंक मैनेजर दोषी होने के बाद भी उसको गिरफ्तार नहीं किया जा रहा था। व्यापारी रणजीत इससे बहुत आहत थे।

यह भी पढ़ेंः सुनवार्इ नहीं होने से परेशान व्यापारी ने थाने के सामने पेट्रोल डालकर खुद को आग लगाई, देखें वीडियो

शिकायत पर लापरवाही से लगार्इ थी आग

पूरे मामले को लेकर रणजीत ने आईजी, एडीजी को भी वाट्सएेप किया था, लेकिन उसको कोई जवाब नहीं मिला। दो दिन पूर्व भी व्यापारी थाने गया था। जहां पर उसको कोई संतोषजनक उत्तर नहीं मिलने पर खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा ली थी। इससे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। एसएसपी अजय साहनी ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक दरोगा को निलंबित कर दिया था, लेकिन थाना प्रभारी पर अधिकारी मेहरबान रहे। व्यापारी की मौत से व्यापारिक संगठनों में रोष है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..