स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुख्तार अंसारी गैंग का शॉर्प शूटर था हरिकेश यादव, पुलिस ने एनकाउंटर में किया ढेर

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Nov 18, 2019 20:33 PM | Updated: Nov 18, 2019 20:33 PM

Mau

  • एक लाख रुपये का इनाम था घोषित
  • पूर्वाचल में मास्टर के नाम से थी दहशत
  • 34 से अधिक दर्ज थे मुकदमे

मऊ. मुख्तार अंसारी गैंग के सक्रिय शूटर हरिकेश यादव उर्फ मास्टर को सोमवार को पुलिस मुठभेड़ में ढेर कर दिया । हरिकेश यादव गैंग में नये बदमाशों को ट्रेनिंग देकर भर्ती करने का काम करता था, उसके उपर एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित था।

मधुबन थाने के देवार आंचल में मुठभेड़ की खबर मिलते ही आजमगढ मंडल के डीआईजी मनोज तिवारी जनपद मुख्यालय पहुचे और पूरे घटनाक्रम का जायजा लिया। इस दौरान बताया कि मुठभेड़ में मारा गया बदमाश मुख्तार गैंग का सक्रिय शूटर था। वह पुलिस मुठभेड़ में घायल हुआ, जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान मौत हो गयी। पूर्वाचल में मास्टर के रुप में काफी नाम था। इसने कई अपराधियों को प्रशिक्षित किया है। लूट, हत्या, भाड़े पर हत्या, डकैती इसका मुख्य पेशा बताया जाता है। इसके उपर 34 से अधिक मुकदमें दर्ज है। वह पूर्वाचल के कई जनपदों में वांछित रहा है और कई घटनाओं में शामिल रहा है।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

उन्होंने बताया कि सोमवार को बैंक लूट की घटना को अंजाम देने के लिए जा रहा था कि कोपागंज थाने के शहरोज में वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस पार्टी के ऊपर फायर किया, जिसके बाद वह भागने लगा। जिसके बाद पुलिस ने मधुबन थाने के धर्मपुर विशुनपुर गांव में घेर लिया और मुठभेड़ में मारा गया। मृतक बदमाश एक लाख का इनामियां था और गैंगेस्टर था, इस जनपद का सबसे दुर्दान्त और वाछिंत अपराधी में से एक है। यह माफिया मुख्तार के लिए भाड़े पर हत्या करने का काम करता था। वह यहां के सबसे एक्टिव मुख्तार गैंग का प्रमुख शूटर है। इसके अलावा वह कई माफियाओं के लिए काम करता है।

[MORE_ADVERTISE3]