स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घोसी उपचुनाव: भाजपा का वोट प्रतिशत घटा, सपा को फायदा, बसपा को सबसे ज्यादा नुकसान

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Oct 25, 2019 14:08 PM | Updated: Oct 25, 2019 14:08 PM

Mau

2017 विधानसभा चुनाव के मुकाबले भाजपा और बसपा का सबसे ज्यादा गिरा वोट प्रतिशत

मऊ. यूपी की घोसी विधानसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी विजय राजभर ने भले ही जीत हासिल की हो, मगर वोटों का घटता अंतर और वोट प्रतिशत में गिरावट भाजपा के लिये आने वाले समय में बड़ी चुनौती बनने वाली है। 1773 वोट से चुनाव जीतने वाले विजय राजभर को इस बार समाजवादी पार्टी ने कड़ी चुनौती दी, सबसे बुरा हाल बसपा प्रत्याशी का रहा । 2017 में दूसरे नंबर पर रहने वाली बसपा इस बार तीसरे नंबर पर चली गई और उसके वोट प्रतिशत में भारी गिरावट आई । वहीं सपा का वोट प्रतिशत 2017 चुनाव के मुकाबले काफी ऊपर आया ।


2017 के चुनाव में यहां से बीजेपी के फागू चौहान ने चुनाव जीता था। उन्होंने बसपा के अब्बास अंसारी को करीब 7000 वोटों से मात दी थी । वहीं सपा से सुधाकर सिंह तीसरे नंबर पर रहे थे। भाजपा प्रत्याशी को 88298, बसपा प्रत्याशी को 81295 और सपा प्रत्याशी को 59256 वोट मिले थे। भाजपा प्रत्याशी को कुल वोट का 36. 78 फीसदी, बसपा को 33.87 फीसदी वहीं सपा को 24.68 फीसदी वोट मिले थे ।

इस उपचुनाव में भाजपा और बसपा को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ । इन दोनों पार्टियों के वोट प्रतिशत में भारी गिरावट देखने को मिली । इस बार भाजपा प्रत्याशी विजय राजभर को 68371 वोट, सपा समर्थित उम्मीदवार सुधाकर सिंह को 66598, वहीं बसपा के कय्यूम अंसारी को 50775 वोट मिले । इस बार भाजपा को कुल वोट का 31 फीसदी, सपा को 30.19 फीसदी, वहीं बसपा को 23.02 फीसदी वोट मिले । 2017 के विधानसभा चुनाव के मुकाबले भाजपा के वोट प्रतिशत में 5.78 फीसदी की गिरावट हुई, वहीं बसपा के वोट प्रतिशत में 10.85 फीसदी की गिरावट आई । इस उपचुनाव में सपा को वोट प्रतिशत के मामले में फायदा हुआ। सपा को पिछले चुनाव के मुकाबले 5.51 फीसदी वोट ज्यादा मिले ।

[MORE_ADVERTISE1]