स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

10 साल में भी नहीं बनी सड़क, लोगों का फूटा गुस्सा, देखें वीडियो

Dhirendra yadav

Publish: Aug 17, 2019 18:20 PM | Updated: Aug 17, 2019 18:20 PM

Mathura

-नगर निगम वार्ड 37 में महोली की सड़क नहीं बन रही
-आए दिन गिरते हैं लोग, गुस्साए लोगों ने की नारेबाजी
-कहा- नेता सिर्फ वोट मांगने आते हैं, सड़क नहीं बनवाते

मथुरा। पिछले दस साल से थाना हाईवे क्षेत्र में लोग इस आस में जी रहे है की उनके मुहल्ले से गुजरने वाली सड़क का कायाकल्प होगा। लेकिन अब इन लोगों की उम्मीद टूट चुकी है और शनिवार को दर्जनों की संख्या में एकत्रित होकर मंत्री और नगर निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

ये भी पढ़ें - वकीलों ने बताई ऐसी बात कि DM रह गए दंग, बना दी कमेटी, हर माह होगी समीक्षा

आये दिन कीचड़ में गिरते है लोग
मथुरा को भले ही नगर निगम में शामिल कर दिया गया हो लेकिन आज भी हालात जस के तस बने हुए हैं। बारिश के महीने के आलावा यहाँ अन्य महीनों में भी यही हाल रहता है। थाना हाईवे क्षेत्र के वार्ड नंबर 37 में आने वाले गांव महोली का भी कुछ ऐसा ही हाल है। नाई मोहल्ले को जाने वाले रास्ते की हालत इतनी ख़राब है की यहाँ से बाइक या साइकिल से निकलना तो दूर, पैदल भी नहीं निकला जाता है। यही कारण है की सालों से लोगों के मन में आक्रोश पनप रहा था। स्थानीय लोगों के अंदर पनप रहा आक्रोश आज फूट पड़ा। स्थानीय लोगों ने ऊर्जा मंत्री के साथ साथ नगर निगम और पार्षद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रास्ते से अपनी साइकिल पर गुजर रहे स्थानीय युवक दिगंबर अचानक गिर गए और उनके चोट लग गयी। वही एक बच्चा भी अपनी साइकिल को लेकर कीचड़ में गिर गया।

ये भी पढ़ें - Article 370 भाजपा विधायक पर सपा नेता ने साधा निशाना, कह दी ये बड़ी बात, देखें वीडियो

जीतने के बाद कोई पीछे मुड़कर नहीं देखता
साइकिल सवार दिगम्बर ने बताया की आए दिन कोई न कोई इस रास्ते पर गिर जाता है। कीचड़ अधिक है। आज मैं साइकिल से जा रहा था और गिर गया। गिरने के कारण चोट लग गयी। कई वर्षों से ऐसी ही हालत है रास्ते की। नेता वोट माँगने आते हैं और जीतने के बाद कोई पीछे मुड़कर नहीं देखता।

ये भी पढ़ें - स्वास्थ्य विभाग के जागरुकता अभियान का दिखा असर, मलेरिया के मरीजों में आई कमी

10 साल से यही हाल
स्थानीय नागरिक धनीराम और छीतर सिंह ने बताया कि नेता आते हैं और वादे करके चले जाते हैं। पिछले 10 साल से यही हाल है। कई बार शिकायत की लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई। पार्षद श्रीपाल बघेल से रास्ते को लेकर कई बार बातचीत हुई लेकिन कोई हल नहीं निकला। स्थानीय लोगों का ये भी आरोप है की मेयर मुकेश आर्य बंधु ने 100 मीटर सड़क का कार्य कराया। अपने चहेतों के घर के सामने आरसीसी की सड़क बनाई है।