स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

काश, हर मां दिखा पाती गीता जैसा दम, न बहकते बेटों के कदम

Amit Sharma

Publish: Aug 13, 2019 21:13 PM | Updated: Aug 13, 2019 21:13 PM

Mathura

-बेटे को अपराधी बनते नहीं देखना चाहती थी मां
-खुद पुलिस को दी बेटे की करतूतों की जानकारी
-मां ने ही दर्ज कराई बेटे के खिलाफ मोटरसाइकिल चोरी की रिपोर्ट

मथुरा। काश हर मां गीता जैसा साहस दिखा पाती और अपराध की दुनियां में जाने से पहले ही कितने ही बेटों के कदम ठिठक जाते। गीता ने ममता की एक नई इबारत लिख दी है। जिसने भी एक मां के इस साहस की कहानी सुनी वही वाह कह उठा। ये मां अपने बेटे को अपराधी बनता नहीं देखना चाहती थी। जब बेटा मां के कहने में नहीं रहा और उसके कदम बहकने लगे तो कलेजे पर पत्थर रख कर खुद रिपोर्टिंग चैकी पहुंची और अपने बेटे के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा कर उसे पुलिस के हवाले कर दिया। रिपोर्टिंग चैकी जैंत पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अब भी मां को उम्मीद है कि उसका बेटा अपराध की दुनियां में नहीं जाएगा और इस सजा के बाद उसकी बात मानकर सही रास्ते पर चलेगा।

यह भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद पार्टी में मची भगदड़ रोकने के लिए अखिलेश ने लिया अब तक का बड़ा एक्शन

चैमुहां निवासी गीता ने तमाम अभावों को झेलते हुए अपने बेटे की अच्छी परवरिष की। अपनी आर्थिक स्थिति के हिसाब से षिक्षा भी दिलाई। सब सही चल रहा था इसी बीच अचानक युवा अवस्था में नरेन्द्र के कदम बहकने लगे। नरेन्द्र अपनी मां की हर बात मानता था लेकिन गलत शौहबत के चलते उसने मां की बात मानना भी बंद कर दिया। यार दोस्तों के साथ नशा करने लगा। नशे की लत में पडते देख अपने कलेजे के टुकडे को राह पर लाने के लिए गीता ने हर संभव कोशिश की। उसके पास इतने पैसे नहीं थे कि वह बेटे की इस लत को पूरा कर पाती।

यह भी पढ़ें- कार चालक को झपकी लगने से हुआ हदसा, दो की मौत और पांच घायल

नरेन्द्र ने अपनी लत पूरा करने के लिए चोरी करना शुरू कर दिया। सोमवार को वह कहीं से एक मोटरसाइकिल चोरी कर लाया। जब मां ने पूछा कि ये मोटरसाइकिल किस की है तो उसने बताया कि वह चोरी करके लाया है। इसके बाद मां के सब्र का बांध टूट गया। अपराध की दुनियां में बहक रहे अपने बेटे के कदमों को रोकने के लिए गीता ने एक ऐसा कदम उठाया जो किसी भी मां के लिए बेहद मुश्किल था। गीता खुद रिपोर्टिंग चैकी चैंत पहुंची और अपने बेटे के खिलाफ मोटरसाइकिल चोरी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। इसके बाद पुलिस ने नरेन्द्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।