स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मखमली हिंडोले में विराजे भगवान द्वारिकाधीश, आज सोना और चांदी के हिंडोले में दर्शन देंगे, नोट कर लें समय, देखें वीडियो

suchita mishra

Publish: Jul 20, 2019 10:02 AM | Updated: Jul 20, 2019 10:08 AM

Mathura

सावन के महीने में द्वारिकाधीश मंदिर में दिखाई देंगी अनोखी घटाएं

मथुरा। सावन के महीने (Savan month) में कान्हा की नगरी की बात ही निराली है। यहां इस महीने भगवान श्रीकृष्ण को बड़े लाड़ और प्यार के साथ हिंडोलो में झुलाया जाता है। द्वारिकाधीश भगवान (Bhagwan dwarikadhish ) भी हिंडोले में विराजमान होकर अपने भक्तों पर कृपा बरसाते हैं। द्वारिकाधीश मंदिर (Dwarikadhish temple) में हिंडोले के कार्यक्रम पूरे सावन चलते हैं और हर दिन भगवान द्वारिकाधीश अलग अलग हिंडोलों में बैठकर भक्तों को दर्शन देते हैं।

आज स्वर्ण और रजत हिंडोले में विराजमान होकर देंगे दर्शन
शुक्रवार को भगवान द्वारिकाधीश ने फिरोजी मखमली हिण्डोले में विराजमान होकर भक्तोंको दर्शन दिए। भगवान के दर्शन कर भक्त आनंदित नजर आए। भगवान द्वारिकाधीश मंदिर के मीडिया प्रभारी राकेश तिवारी ने हिंडोलों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि श्रावण मास के कार्यक्रमों में ठाकुर द्वारिकाधीश जी महाराज ने नित्य प्रति स्वर्ण एवं रजत के अलावा फिरोजी जरी, फिरोजी मखमली हिंडोलों में विराजमान होकर भक्तों को दर्शन दिए। यह क्रम नित्य प्रति जारी रहेगा। 20 जुलाई को ठाकुर जी स्वर्ण और रजत के अलावा केसरी चित्र काम हिण्डोला में विराजमान होकर भक्तों को दर्शन देंगे।

ये रहेगा समय
हिण्डोले के विशेष दर्शन का समय सायंकाल 5:10 से 5:40 बजे तक रहता है और इसी क्रम में 30 जुलाई से प्रारंभ होंगी, विभिन्न घटाएं जो ठाकुर द्वारिकाधीश मंदिर की एक अनोखी छटा को भी बिखरेंगी। यह क्रम भी 14 अगस्त तक जारी रहेगा। देश विदेश से आए भक्तजन आनंद ले सकेंगे।

इन्होंने किया सहयोग
इस कार्यक्रम के दौरान मंदिर के मुखिया बृजेश कुमार, सुधीर कुमार, मंदिर के अधिकारी श्रीधर चतुर्वेदी, कमला शंकर, बनवारी लाल, राधारमन अरोड़ा, सत्यनारायण, बलदेव भंडारी, अजय भट्ट, समाधानी, राजीव चतुर्वेदी,पंडित बृजेश चतुर्वेदी आदि लोगों ने सहयोग किया ।