स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Binny Bansal ने Flipkart में बेची अपनी हिस्सेदारी, 531 करोड़ रुपये में हुआ सौदा

Ashutosh Kumar Verma

Publish: Jun 24, 2019 14:55 PM | Updated: Jun 24, 2019 14:57 PM

Market

  • Flipkart में Binny Bansal के पास 3.52 फीसदी हिस्सेदारी शेष।
  • Walmart को बिन्नी बंसल ने बेची अपनी हिस्सेदारी।
  • फ्लिपकार्ट से इस्तीफे के बाद दूसरे Startups पर में निवेश करत हैं बिन्नी बंसल।

नई दिल्ली। वॉलमार्ट ( Walmart ) द्वारा फ्लिपकार्ट ( Flipkart ) के अधिग्रहण के ठीक एक साल बाद सह-संस्थापक बिन्नी बंसल ( Binny Bansal ) ने एक बार फिर कंपनी में अपने शेयर्स का कुछ हिस्सा बेचा दिया है। बंसल ने ये शेयर्स वॉलमार्ट को बेचा है। भारत में Startups के पोस्टरबॉय कहे जाने वाले बिन्नी बंसल के पास 2018 तक फ्लिपकार्ट में 3.85 फीसदी की हिस्सेदारी थी।

नियामकीय फाइलिंग में फ्लिपकार्ट ने जानकारी दी है कि बिन्नी बंसल ने 5,39,912 इक्विटी को एफआईटी होल्डिंग्स एसएआरएल ( FIT Holdings SARL ) को 7.64 करोड़ डॉलर ( करीब 531 करोड़ रुपये ) ट्रांसफर कर दिया है। यह लग्जमबर्ग की एक कंपनी की ही ईकाई है, जिसे वॉलमार्ट ऑपरेट करती है। इन इक्विटी के ट्रांसफर करने के बाद बिन्नी बंसल के पास फ्लिपकार्ट में अब 3.52 फीसदी स्टेक ही बचे हैं।

यह भी पढ़ें - व्यक्तिगत दुर्व्यवहार के आरोपों के बीच इस्तीफा देने के बाद पहली बार बोले बिन्नी बंसल

2020 तक बेच दे सकते हैं अपनी 50 फीसदी हिस्सेदारी

इसके पहले वॉलमार्ट द्वारा अधिग्रहण के दौरान भी उन्होंने 11,22,433 शेयर्स बेचे थे, जिसकी कुल कीमत 15.9 करोड़ डॉलर थी। फ्लिपकार्ट से अलग होने के बाद बिन्नी बंसल अब निवेशक के रूप में काम करते हैं। पिछले साल दिसंबर माह में उन्होंने Aock नाम के एक स्टार्टअप के लिए 2.5 करोड़ डॉलर निवेश किया था। किसी भी ऑनलाइन स्टार्टअप में उनका यह अब तक का सबसे बड़ा निवेश है। इसके अतिरिक्त बंसल ने कई अन्य स्टार्टअप्स में भी निवेश किया है। कन्ट्रैक्ट के नियमों के मुताबिक, साल 2020 तक बिन्नी बंसल अपने कुल स्टेक का अधिकतम 50 हिस्सा बेच सकते हैं।

यह भी पढ़ें - अब इन अरबपतियों के साथ होगा सचिन बंसल का ठिकाना, यहां खरीदने जा रहे हैं बंग्ला

सचिन बंसल ने 1 अरब डॉलर में बेच दी थी अपनी पूरी हिस्सेदारी

पिछले साल नवंबर माह में बिन्नी बंसल ने ग्रुप CEO और चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया था। उस दौरान बंसल पर दुर्व्यवहार का अरोप लगा था, जिसकी जांच के दौरान उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। बता दें कि पिछले साल ही दिग्गज अमरीकी रिटेल कंपनी वॉलमार्ट ने 16 अरब डॉलर में फ्लिपकार्ट का अधिग्रहण किया था। ई-कॉमर्स सेक्टर में अब तक का यह सबसे बड़ा डील था। उस दौरान, वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट में 77 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। सचिन बंसल ( Sachin Bansal ) ने फ्लिपकार्ट में अपनी पूरी हिस्सेदारी करीब 1 अरब डॉलर में बेच दी थी।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.