स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जल्द दूर होगा निहाल का दर्द

Mangal Singh Thakur

Publish: Oct 17, 2019 11:41 AM | Updated: Oct 17, 2019 11:41 AM

Mandla

कलेक्टर ने अस्पताल पहुंचकर जाना हाल

मंडला. बचपन में ही मां के निधन व पिता की बेरूखी से दर दर भटक रहे दो भाईयों का दर्द जल्द ही दूर हो जाएगा। इसके लिए कलेक्टर ने निर्देश जारी कर दिए हैं। 'पत्रिकाÓ में प्रकाशित खबर 'बचपन में ही छिना अपनों का साथ, अब इलाज के लिए दर-दर भटक रहे मासूमÓ को संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर ने आवश्यक निर्देश दिए हैं। मंगलवार को डॉ जगदीश चंद्र जटिया कुड़वन हिरदेनगर निवासी 4 वर्षीय निहाल सिंह पिता नंदलाल मरावी के इलाज का जायजा लेने जिला अस्पताल पहुंचे। उन्होंने सिविल सर्जन डॉ महेन्द्र तेजा को निहाल सिंह का समुचित इलाज करने के निर्देश दिए। डॉ जटिया ने निहाल सिंह के दादा-दादी से उनके परिवार तथा बच्चे के स्वास्थ्य से संबंधित चर्चा की। उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को बच्चे के इलाज की समुचित निगरानी करने के निर्देश दिए। साथ ही निहाल सिंह के पूर्ण रूप से स्वास्थ्य होने के बाद उसे बालगृह में भर्ती कराने की बात भी कही। इस अवसर पर कलेक्टर ने उपस्थित स्वास्थ्यकर्मियों से निहाल सिंह की स्वास्थ्य रिपोर्ट मांगी। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ तन्वी हुड्डा सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।


रहने व शिक्षा का होगा इंतजाम
गौरतलब है कि निहाल के जन्म के साथ ही नसीब और निहाल दोनो भाईयों के सिर से मां का साया उठ गया। अब पिता ने भी ध्यान देना छोड़ दिया। अब वर्षीय नसीब व 4 वर्षीय निहाल दो वक्त की रोटी और रात गुजारने के लिए छत के लिए यहां वहां भटक रहा है। निहाल के सिर में कुछ दिन पहले घाव हो गया था। जो धीरे-धीरे गंभीर हो गया। भुआ ने निहाल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है जहां सही उपचार ना होने से निहाल की हालत गंभीर हो रही थी। अब कलेक्टर के निर्देश पर निहाल का उपचार प्रारंभ कर दिया गया है। जल्द ही निहाल स्वास्थ्य हो जाएगा। जिसके बाद नसीब व निहाल दोनो भाईयों के रहने व शिक्षा की व्यवस्था की जाएगी।