स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रात के अंधेरे में बेच रहे थे मध्यान्ह भोजन का चावल

Mangal Singh Thakur

Publish: Jul 19, 2019 09:33 AM | Updated: Jul 19, 2019 09:33 AM

Mandla

ग्रामीणों ने पंचायत बिठा कर बनाया पंचनामा

भाईबहिननाला. स्कूली बच्चों के लिए मध्यान्ह भोजन बनाने के आए चावल को छात्रावास के चौकीदार व रसोइया को बेचने का मामला सामने आया है। छात्रावास में बच्चों को मध्यान्ह भोजन के चावल को पका कर खिलाया जाता और बिल दुकान का लगा दिया जाता है। मामले में माध्यमिक शाला के प्रधान पाठक की लापवाही भी सामने आई है। मामला मवई विकासखंड के खलोड़ी ग्राम पंचायत का है। खलौड़ी पंचायत के अंतर्गत संचालति कन्या शाला, प्राथमिक शाला व माध्यमिक शाला खलौड़ी के लिए समूह द्वारा एक ही स्थान पर भोजन तैयार किया जाता है। शासन द्वारा जारी खद्यान्न माध्यमिक शाला के रसाई में रखा जाता है।

जानकारी के अनुसार 15 जुलाई के रात्रि 9 बजे के आसपास मध्यान भोजन खलोड़ी के स्टॉक रूम से मध्यान भोजन का चावल निकाल कर बेचा जा रहा था। बताया गया कि प्रधान पाठक विमला उईके के स्टॉक रूम की चाबी अपने पास रख ली जाती है। वहीं हिसाब-किताब भी अपने पास रखा जाता है। खद्यान्न की जिम्मेदारी शाला के चपरासी तुलसीराम पटेल को दे दी गई है। तुलसी राम अपने हाथ से निकाल कर समूह वाले को सामान दिया करता है। 15 जुलाई की रात्रि हाई स्कूल के अतिथि शिक्षक अभिषेक पटेल, माध्य शाला के चपरासी तुलसीराम पटेल, बालिका छात्रावास की चौकीदार मतिया बाई व रसोईया बतसिया बाई स्टॉक रूम खोल कर अनाज ले जाने वाले थे तभी गांव के कुछ युवकों ने उन्होंने देख लिया। जानकारी लेने में बताया गया कि प्रधान पाठक विमला उईके के कहने पर चावल दिया जा रहा था। जिसके बदले चौकीदार मतिया बाई ने 700 रुपए भी दिए थे।
सुबह जब मामले की जानकारी ग्राम वासियों को लगी तो बुधवार को पंचायत बैठाली गई। जिसमें पूरा मामला रखा गया। स्थानीय निवासी रिटायरमेंट पोस्टमेन बुध सिंह धुर्वे द्वारा पंचायत में लिखित शिकायत की गई थी। 18 जुलाई को सरपंच की मौजूदगी में ग्रामवासियों की बैठक की गई। इसके बाद पंचनामा तैयार कर आगे कार्रवाई करने के लिए भेजा गया। इस संबमध में कॉल के माध्याम से कलेक्टर व डीपीसी को भी अवगत कराया गया है। बैइक में सरपंच देव सिंह धुर्वे, पूर्व सरपंच समली बाई धुर्वे, वरिष्ठ नागरिक फूल सिंह मरावी, पालक शिक्षक संघ के सदस्य गुरमुख तिलगाम, दुर्गा प्रसाद यादव, वार्ड पंच में तहसीलदार यादव, पंचम बाई, नीलकंठ, सुनीता माहेश्वरी, दुर्गा पवांर, कोटवार महेश माहेश्वरी आदि उपस्थित रहे। बैठक में ही चावल के लिए दी गई राशि 700 सौ रुपए को पंचायत प्रतिनिधियों को दी गई। जिसे सरपंच के पास जमा कर ली गई है।
माध्यमिक शाला खलौड़ी की प्रधानाध्यापक विमला उईके द्वारा समूह की चाबी को रख लिया जाता है। चपरासी अतिथि शिक्षक के माध्यम से रात्रि में चावल बेंचे जाने का मामला सामने आया था। ग्रामीणों की उपस्थिति में पंचनामा बनाकर अग्रिम कार्रवाई के लिए भेजा गया है।
देव सिंह धुर्वे, सरपंच ग्राम पंचायत खलौड़ी