स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मामा भांजे निकल पड़े सड़क के गड्ढे भरने

Mangal Singh Thakur

Publish: Jul 19, 2019 09:22 AM | Updated: Jul 19, 2019 09:22 AM

Mandla

आंखों के सामने हादसा देख हुए विचलित

मंडला. आंखों के सामने हुए सडक़ हादसे से संजय ठाकुर इस कद्र विचलित हुए कि प्रशासन की राह देखना छोडकऱ अपने भांजे के साथ गड्ढे भरने निकल पड़े। उनकी इस जिद का परिणाम है कि जानकारी लगते ही प्रशासन भी सक्रिय हो गया और रास्ते के गड्ढे भरवाने का काम शुरू करा दिया। दरअसल आंगन तिराहा पौड़ी रेलवे क्रांसिंग तक सडक़ की हालत बेहद खस्ता है। यहां सडक़ पर तकरीबन हर दो फुट पर गड्ढा दिखाई देता है। जिस कारण वाहन चालकों को मुश्किलों का सामना तो करना पड़ता है साथ ही कई बड़े हादसे भी हो चुके हैं। इसी रोड पर महाराजपुर निवासी संजय ठाकुर का प्रतिदिन आना जाना होता है। संजय ने बताया कि सडक़ो के गड्डो के कारण वाहन चलाने वाले व अन्य लोग घायल हो रहे हैं। बारिश के दौरान पानी भरने से गड्ढे और खतरनाक हो जाते हैं। संजय ने बताया कि कुद दिन पहले अन्य मोटर सायकिल सवार इन गड्डो के कारण गिर गया। उनके साथ एक महिला थी जो गम्भीर रूप से घायल हो गई। यह सब उनकी नजरों के सामने हुआ। इस घटना ने इनको इतना आहत किया कि दोनो मामा भांजे अपनी बाइक पर तसला फावड़ा लेकर निकल पड़े। जहां भी इन्हें गड्ढे मिलते है, उसे ये साइड की मिट्टी पत्थर से भरने लगते है। कुछ दिनों पहले भी एक घटना हुई। जसमें अपने माता पिता का इकलौता बेटा इन गड्डो के कारण काल के गाल में समा गया। जबसे उसके पिता भी यही काम कर रहे है। महाराजपुर चौधरी वाड़ा के व्यावसायी पंकज चौधरी के द्वारा भी लगातार अपने वाहनों से मोहनटोला से महाराजपुर तक सडक़ के गड्डो को भरा जा रहा है। जो तन मन धन से इस कार्य में लगे हैं। स्थानीय निवासियों का कहना है कि महाराजपुर से पौड़ी मार्ग की हालत खस्ता है। रोड के गड्ढों के चलते यहां रोजाना हादसे होते हैं जिसके चलते कई बार सडक़ को बनाने की मांग की जा चुकी है लेकिन अभी तक इसे नहीं बनाया गया।