स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

परिजनों से कोसो दूर अस्पताल में तड़प रहा युवक

Mangal Singh Thakur

Publish: Nov 09, 2019 18:00 PM | Updated: Nov 09, 2019 18:00 PM

Mandla

इलाज के बहाने संगम में छोड़कर भागा मालिक

मंडला. जिला चिकित्सालय मंडला में एक युवक को भर्ती कराया गया है। जिसकी हालत काफी नाजूक है। घटना के शिकार युवक की सुध लेने के लिए कोई तैयार नहीं है। जानकारी के अनुसार श्याम चंदा 35 वर्ष को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। युवक असम शिलांग का रहने वाला बता रहा है। युवक ने बताया कि वह नागपुर खापरखेड़ा ेमें किसी वकील की होटल में काम कर रहा था। कार्य के दौरान होटल की छत से गिर गया। सुबह जैसे ही होश आया तो मालिक ने उसे बताया कि तुम छत से गिर गए थे। नीचे जिससे की कमर के नीचे का हिस्सा सून हो गया। होटल मालिक के द्वारा नागपुर गवर्नमेंट हॉस्पिटल में डेढ़ से 2 महीने तक इलाज कराया गया। इसके बाद मालिक ने ध्यान देना बंद कर दिया।् फिर वही के एनजीओ माध्यम से श्याम की नागपुर में देख रेख की गई और मालिक को फिर बुलाया गया। मालिक ने श्याम को किसी बड़े हॉस्पिटल ले जाने के बहाने हॉस्पिटल से छुट्टी करा कर नागपुर में खाना-पीना खिलाकर उसे मंडला की ओर संगम घाट महाराजपुर लाकर छोड़ दिया। जब उसने मालिक से पूछा कि कहां लाकर छोड़ा है मालिक का जवाब था कि अच्छे स्थान में तुम्हारा इलाज होने वाला है। यहीं पर रुको हम अभी आ रहे हैं ऐसा कहकर वो लोग चले गए दोबारा लौटकर नहीं आए। महाराजपुर संगम घाट में वह दो दिन रहा। स्थानीय व्यक्तियों के माध्यम से उसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। अखिल भारतीय सेवा दल के जिला अध्यक्ष रेनू कछवाहा ने बताया कि उसे युवक की जानकारी लगी है। हर संभव मदद का प्रयास किया जा रहा है। उपचार के लिए चिकित्सकों से बात की गई है। परिजनों की तालाश कर युवक की मदद की जाएगी।

[MORE_ADVERTISE1]