स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कभी मुंडन संस्कार तो कभी खून से खत लिखकर, युवाओं ने की मेडिकल कॉलेज के स्थापना की मांग

Karishma Lalwani

Publish: Nov 25, 2019 18:52 PM | Updated: Nov 25, 2019 18:52 PM

Mahoba

सीएम योगी आदित्यनाथद्वारा प्रदेश में 15 नए मेडीकल कॉलेज की आधारशिला रखने के बाद महोबा में मेडीकल कॉलेज की मांग उठने लगी है

महोबा. सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) द्वारा प्रदेश में 15 नए मेडीकल कॉलेज (Medical College) की आधारशिला रखने के बाद बुंदेलखंड के महोबा में भी मेडीकल कॉलेज की मांग उठने लगी है। सत्यमेव जयते युवा मोर्चा के तत्वाधान में एक दर्जन बुंदेले ऐतिहासिक आल्हा चौक पर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। सत्यमेव जयते युवा मोर्चा का अनिश्चितकालीन धरना चौथे दिन भी जारी रहा।

पहले भी हुई है कॉलेज की मांग

महोबा में एम्स और मेडीकल कॉलेज की मांग पहली बार नहीं हुई है। बुन्देली समाज के संयोजक तारा पाटकार बीते चार वर्ष से नंगे पैर चलकर शासन-प्रशासन से मेडीकल कॉलेज की मांग करते आ रहे हैं। पीएम मोदी का ध्यान बुंदेलखंड की ओर खींचने के लिए बुंदेली समाज के तारा पाटकार बीते 516 दिन से अनिश्चितकालीन धरना करते चले आ रहे है। कभी मुंडन संस्कार, तो कभी खून से खत, पर्यावरण संरक्षण और राखी भेज पीएम मोदी (PM Narendra Modi) का ध्यान बुंदेलखंड के महोबा की ओर खींचने पर प्रयास किया जाता है। अब सत्यमेव जयते युवा मोर्चा से जुड़े तमाम युवा एकजुट होकर अनिश्चितकालीन धरना पर बैठ गए हैं। मांग है कि शासन महोबा में मेडीकल कॉलेज की मांग को पूरा करें।

मानक की कमी से नहीं बनेगा मेडिकल कॉलेज

बता दें कि महोबा में मेडिकल कॉलेज के लिए प्रशासन द्वारा जमीन तलाश ली गई थी। मगर अचानक मानक की कमी बताते हुए मेडिकल कॉलेज बनने का रास्ता ही बंद हो गया। यहां मेडिकल कॉलेज की जरूरत महसूस करते हुए युवा अनिश्चित कालीन अनशन पर बैठ गए और शासन ने मेडिकल की मांग पर अड़े रहे।

ये भी पढ़ें: रायबरेली पहुंची राज्यपाल, ग्रामीणों की सुनी परेशानियां, स्टूडेंट्स से कराए योगासन

[MORE_ADVERTISE1]