स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी के इस जिले में 14 लाख 66 हजार पौध रोपण हुए, डीएम और एसपी सहित आला अधिकारियों ने किया शुभारम्भ

Neeraj Patel

Publish: Aug 09, 2019 21:21 PM | Updated: Aug 09, 2019 21:21 PM

Mahoba

भारत छोड़ो आंदोलन की 77 वी वर्षगांठ पर 22 करोड़ पेड़ लगाने के मद्देनजर महोबा जिला प्रशासन ने 14.66 पौधरोपण का लक्ष्य रखा।

महोबा. शासन के निर्देश पर प्रदेश को हरा भरा करने के उद्देश्य से 9 अगस्त को भारत छोड़ो आंदोलन की 77 वी वर्षगांठ पर 22 करोड़ पेड़ लगाने के मद्देनजर महोबा जिला प्रशासन ने 14.66 पौधरोपण का लक्ष्य रखा। महोबा शहर के भटीपुरा स्थित पहाड़ के समीप राष्ट्रपिता महात्मा गांधी उपवन में 6500 पौध रोपित कर बीजेपी सांसद, जिला पंचायत प्रतिनिधि, ग्राम्य विकास विभाग के सचिव के० रविन्द्र नायक ने पहुंच बुंदेलखंड में वृक्षारोपण कार्यकम की शुरूआत की है।

वन क्षेत्र में 33 हजार वृक्षों का रोपण

प्रदेश को हरा-भरा बनाने एवं जनसामान्य के अच्छे जीवन हेतु आदर्श पर्यावरण उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा महत्वाकांक्षी 22 करोड़ पौधरोपण किए जाने योजना तैयार की गई। जिसके तहत जनपद में 14.66 लाख पौधों के रोपण की शत-प्रतिशत सफलता के लिए जिलाधिकारी अवधेश कुमार तिवारी ने कबरई विकासखण्ड के अंतर्गत 30 हेक्टेयर में स्थापित बिलरही वन क्षेत्र एवं भटीपुरा में स्थापित किये जाने वाले "गांधी उपवन" क्षेत्र का चयन किया। जिसमें 09 अगस्त को बिलरही वन क्षेत्र में 33 हजार वृक्षों का रोपण किया गया।

ये भी पढ़ें - जयंती पर विशेष : ठाकुरों से नफरत थी बेहमई कांड की वजह, लेकिन फूलन के मददगार भी ठाकुर ही थे

इसके साथ ही भटीपुरा में स्थापित किये जाने वाले "गांधी उपवन" में महात्मा गांधी जी के प्रिय प्रजातियों वाले 65 सौ वृक्षों को लगाकर इस क्षेत्र को खास बनाने का प्रयास किया गया है । बता दें कि इस क्षेत्र में आम,नीम, कल्पवृक्ष, साल,महुआ, सहजन एवं मॉलथ्री आदि पौधे रोपित किये गए है । बिलरही वन क्षेत्र के भ्रमण के दौरान सीडीओ हीरा सिंह, डीएफओ रामजी रॉय एवं क्षेत्रीय वनाधिकारी मौजूद रहे है ।

वन हमारे जीवन का मूल आधार

कार्यक्रम में मौजूद सांसद पुष्पेंद्र सिंह चंदेल ने कहा कि वन हमारे जीवन का मूल आधार है। पेड़ पौधों के बिना मानव जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। सूखे बुंदेलखंड में हरित क्रांति को लेकर महिलाओं ने खाशी मेहनत की है। अतिथियों के शुभारंभ से पहले गड्डों को रंगोली के माध्यम से बेहतर तरीके से सजाकर आकर्षक बनाया गया है। पीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जी ने पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन के लिए बड़ा बीड़ा उठाया है। जिसको लेकर भारत छोड़ो आंदोलन के क्रांति दिवस के दिन समूचे प्रदेश में 22 करोड़ वृक्षारोपण करने की क्रांति लाकर शानदार पहल की है। जिससे हमारे उत्तर प्रदेश के हरा भरा होने की उम्मीद जाग उठी है।

ये भी पढ़ें - सीएम के साथ राज्यपाल का पहला दौरा, 'पौधरोपण महाकुंभ' का शुभारंभ, रोपे गए 22 करोड़ पौधे

6680 पौध लगाने का लक्ष्य प्राप्त

भारत छोड़ो आंदोलन की 77 वी बर्षगांठ पर शासन के निर्देश के अनुपालन में पुलिस लाइन ग्राउंड सहित जनपद के सभी 11 थानों में वृक्षारोपण कार्यक्रम को लेकर 6680 पौध लगाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। जिसके तहत आज पुलिस लाइन ग्राउंड में 1000 पौध रोपित किए गए हैं। जबकि सभी थानों में पौधरोपण का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। हमारे साथ एएसपी वीरेंद्र सिंह ने पुलिस भी पौध रोपित किए हैं।