स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अयोध्या फैसले के मद्देनजर डीएम और एसपी के नेतृत्व में निकाली गई सद्भावना रैली, दिया एकता का सन्देश

Neeraj Patel

Publish: Nov 08, 2019 15:13 PM | Updated: Nov 08, 2019 15:14 PM

Mahoba

अयोध्या मामले में आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले जिला प्रशासन जिले में अमन-शांति को लेकर हर संभव प्रयास कर रहा है।

महोबा. अयोध्या मामले में आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले जिला प्रशासन जिले में अमन-शांति को लेकर हर संभव प्रयास कर रहा है। शासन के निर्देश पर ऐतिहासिक आल्हा चौक पर समाजसेवियों सहित सभी धर्मों के धर्मगुरुओं के साथ रैली निकालकर शांति का संदेश दिया है। आमजन प्रशासन के इस पहल की सराहना कर रहे हैं।

महोबा जिले में अमन-चैन और शांति, सदभावना बनाए रखने को लेकर जिला प्रशासन कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहा है। अराजकता फैलाने वालों की जिला प्रशासन ने पहले ही सूची तैयार कर ली है। जिले की तीनों तहसीलों सहित सभी 10 थानों में नागरिकों की ओर ग्रामीणों के साथ बैठक की है। आज एक बार फिर मुख्यालय में अमन-चैन बनाए रखने को सभी धर्मगुरुओं को एक साथ एक मंच पर चलकर शांति व्यवस्था बनाए रखने की जिला प्रशासन ने अपील की है। शहर के आल्हा चौक से शुरू हुई सदभावना रैली नगर के उदल चौक से होती हुई तहसील परिसर में समाप्त हो गई।

इस मौके पर जिला मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार तिवारी, नवागंतुक पुलिस अधीक्षक मनीलाल पाटीदार तमाम समाजसेवी और धर्मगुरु ने एक साथ प्रमुख चौराहों से रैली निकाल तहसील परिसर में कार्यक्रम का समापन कर दिया। धर्मगुरुओं ने भी इस मौके पर आमजनों से सुप्रीम कोर्ट के आदेश को मानने को सदभावना बनाए रखने की भी अपील की गई। धर्मगुरुओं ने हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई आपस में भाई भाई के भी नारे लगाए हैं।

[MORE_ADVERTISE1]