स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रईसजादों की गुंडई, रुपये के लिए दिनदहाड़े फायरिंग

Ruchi Sharma

Publish: Nov 14, 2019 10:43 AM | Updated: Nov 14, 2019 10:45 AM

Mahoba

रईसजादों की गुंडई, रुपये के लिए दिनदहाड़े फायरिंग

महोबा. शहर कोतवाली क्षेत्र के बल्देवनगर मुहल्ले में रईसजादों की गुंडई सामने आयी है। कुछ महीने पहले 2 लाख 26 हजार रुपये के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में चार असलहाधारी दबंगों ने पुलिस टीम ओर एसओजी प्रभारी के सामने ही जान से मारने की नीयत से फायर झोंक दिया। फिलहाल गनीमत यह रही पीड़ित पुलिसकर्मियों की जीप के नीचे छुपकर जान बचाने में कामयाब हो सका है। पुलिस न चारों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी।

महोबा सीओ सदर ने बताया कि कबरई थाना क्षेत्र के पहरा मोड़ में रहने वाले देशराज गुप्ता महोबा आये थे इनके घर के पास रहने वाले मनोज गुप्ता का मध्य प्रदेश के छत्तरपुर जिले के सटई रोड स्थित संगम ग्रेनाइट के मैनेजर सुशील पांडे से 2 लाख 26 हज़ार का लेन देन का विवाद चल रहा था सुशील पांडे अपने तीन साथियों अभिषेक बुधौलिया, अतुल शुक्ला ,भूपेन्द्र सिंह तोमर के साथ मेरे घर के पास आकर गाली गलौच देने लगे।

इस मामले की शिकायत करने जैसे ही में शहर के आल्हा चौक पहुंचा तो ये सभी मेरे पीछे आ खड़े हुए। मैंने अपनी जान बचा कर बलदेव नगर स्थित क्राइम ब्रांच प्रभारी के घर के पास पहुचा ही था कि पुलिस की जीप को देख इन्होंने मुझ पर जान से मारने की नियत से मुझ पर फायर झोंक दिया। इस मामले की शिकायत पीड़ित ने कोतवाली में दर्ज कराई है । पीड़ित ने पुलिस जीप ने नीचे छिप कर अपनी जान बचाई तभी क्राइम ब्रांच प्रभारी सतीश मिश्रा ने पुलिस बल के साथ चारो को दबोच लिया था । जिससे एक बड़ी वारदात होते होते बच गयी सभी आरोपियों के खिलाफ धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

[MORE_ADVERTISE1]