स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मोदी के जन्मदिन पर खून से खत लिखेंगे अनशनकारी, पृथक बुंदेलखंड राज्य के लिए महोबा में जारी है 439 दिन से ऐतिहासिक अनशन

Neeraj Patel

Publish: Sep 09, 2019 14:13 PM | Updated: Sep 09, 2019 14:13 PM

Mahoba

पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग को लेकर पिछले 439 दिन से लगातार अनशन पर बैठे बुंदेली समाज के संयोजक तारा पाटकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 69वें जन्मदिन पर खून से खत लिखकर उनको बधाई देंगे।

महोबा. पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग को लेकर पिछले 439 दिन से लगातार अनशन पर बैठे बुंदेली समाज के संयोजक तारा पाटकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 69वें जन्मदिन पर खून से खत लिखकर उनको बधाई देंगे। पाटकर के साथ उनके सहयोगी भी मोदी को खून से चिट्ठी लिखेंगे एवं अलग राज्य की मांग करेंगे।

खत लिखकर भेजा जाएगा बधाई संदेश

तारा पाटकर ने ये जानकारी देते हुए बताया कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस है। उस दिन हमारे ऐतिहासिक अनशन के 447 दिन पूरे हो जाएंगे। हम लोगों ने तय किया है कि इस बार उनके जन्म दिवस पर खून से खत लिखकर प्रधानमंत्री को बधाई संदेश भेजा जाएगा और उनसे बुंदेलखंड के लोगों की जन भावनाओं का ख्याल रखते हुए जल्दी से जल्दी बुंदेलखंड राज्य बनाने की अपील की जाएगी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 28 जून को जब हमारे अनशन का एक वर्ष पूरा हुआ था तब डेढ़ सौ लोगों ने प्रधानमंत्री को अपने खून से खत लिखे थे एवं बुंदेलखंड राज्य बनाने की मांग की थी। अभी रक्षाबंधन में बुंदेलखंड की हजारों बहनों ने प्रधानमंत्री को राखी भेजकर तोहफे में अलग राज्य देने की अपील की थी लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय ने अभी तक अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी है।

कार्यक्रम में ये लोग रहे मौजूद

बुंदेली समाज के संयोजक ने कहा कि भाजपा हमेशा से छोटे राज्यों की पक्ष धर रही है। अगर ऐसा न होता तो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई एक साथ तीन नए राज्य न बनाते। मोदी एक ही राज्य बना दें। अनशन स्थल पर वीरेंद्र अवस्थी, कृष्णा शंकर जोशी, इंद्रजीत सिंह, देवेन्द्र तिवारी, राम सेवक अवस्थी, अमर चंद विश्वकर्मा, अनिरुद्ध मिश्र, कल्लू चौरसिया, संतोष धुरिया, हरिश्चंद्र वर्मा, हरगोविंद, रंजीत गौतम, अमन तिवारी, समेत तमाम लोग मौजूद रहे।