स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जंगली शूकर का शिकार करते चार लोगों को पुलिस ने पकड़ा, जानवर के मांस सहित जब्त हुए ये सामान

Bhawna Chaudhary

Publish: Oct 16, 2019 21:00 PM | Updated: Oct 16, 2019 16:50 PM

Mahasamund

बिजली के तार फैलाकर जंगली शूकर का अवैध रूप से शिकार करने का मामला प्रकाश में आया है।

अरेकेल(बसना). छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के सांकरा थाना क्षेत्र के ग्राम माटीदरहा जंगल के कक्ष क्रमांक 255 में बिजली के तार फैलाकर जंगली शूकर का अवैध रूप से शिकार करने का मामला प्रकाश में आया है।

विदित हो कि माटीदरहा एवं उतेकेल जंगल में पिछले कई माह से जंगली शूकर का अवैध रूप से शिकार की खबर विभाग को मिल रही थी। इसी क्रम में मुखबिर की सूचना पर कक्षा क्रमांक 255 में जंगली शूकर का शिकार करने के उपरांत आरोपियों द्वारा घर में लाकर अवैध रूप से बेचने की सूचना वन विभाग के डिप्टी रेंजर एमएल प्रजापति को मिली। सूचना पर वन विभाग के अधिकारी दलबल सहित आरोपी के घर में दबिश दी।

घर की बाड़ी से शूकर का मांस, 3 नग पिंजरे में कैद जिंदा तितुर और एक नग टंगिया बिजली के तार और कांच की शीशी एवं किलो वाट सहित तराजू और एक नग पंसूल जप्त किया गया। आरोपियों में उतेकेल के निवासी इंद्रजीत पिता लोचन (45), भोजराज पिता रामप्रसाद (33), नरेंद्र पिता उत्तर (22), मनसा पिता बाबूलाल (३३) शामिल है। आरोपियों पर वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 के धारा 9 के तहत कार्यवाही की गई।