स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस योजना के तहत किसानों को हर माह मिलेगा 3 हजार, शुरू हो गया पंजीयन, महासमुंद पहले स्थान पर

Chandu Nirmalkar

Publish: Sep 05, 2019 19:23 PM | Updated: Sep 05, 2019 19:23 PM

Mahasamund

PM Kisan Maan-Dhan Yojana: मानधन योजना में (Maan-dhan Yojana) अब तक महासमुंद जिले से 11502 किसानों का पंजीयन (PMKMY CSC) हुआ है।

विक्रम साहू@महासमुंद. केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PMKMY CSC) में किसानों की पंजीयन प्रक्रिया चल रही है। ताजा आंकड़ों में पंजीयन के मामले में पूरे देश में महासमुंद जिला पहले स्थान पर है। मानधन योजना (PM Kisan Maan-Dhan Yojana) में अब तक जिले से 11502 किसानों (Farmer pension scheme) का पंजीयन हुआ है।

आंकड़ों से पता चलता है कि प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना को लेकर किसानों में उत्साह का माहौल है। जानकारी के मुताबिक इस योजना के तहत किसानों को 60 वर्ष की आयु पूरी करने पर 3 हजार रुपए मासिक पेंशन मिलेगी। पति की मृत्यु होने पर पत्नी को 1500 रुपए मिलेगा।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसी वजह से किसानों के लिए नई योजनाएं लाई जा रही है। इस योजना का लाभ लेने के लिए पूरे देश से 7 लाख 85 हजार 264 लोगों ने पंजीयन कराया है। जानकारी के मुताबिक योजना के तहत किसान जितना अंशदान देगा, उतना ही अंश सरकार देगी। जिस किसान के पास दो हेक्टेयर तक कृषि भूमि होगी, वे ही इस योजना के पात्र होंगे। किसान कड़ी मेहनत करने के बाद भी अंत में उनके पास कुछ भी नहीं बचता है। ऐसे लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार सोच रही है।

इस योजना के तहत किसानों को हर माह मिलेगा 3 हजार, शुरू हो गया है पंजीयन, महासमुंद पहले स्थान पर

ज्ञात हो कि भारत के अधिकांश लोग ग्रामीण इलाकों में रहते हैं। किसान कॉमन सर्विस सेंटर में पेंशन योजना के लिए पंजीयन करा सकते हैं। किसान यदि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि कोष से ही पेंशन योजना के लिए अंशदान करना चाहता है, तो वह कर सकता है। अधिकारियों की मानें तो महासमुंद जिले में पंजीयन कराने वाले किसानों की संख्या आने वाले समय में बढ़ जाएगी। अभी पंजीयन की प्रक्रिया चल रही है।

श्यामल शर्मा ने बताया कि किसान बीच में अपनी सारी जमा राशि को निकालना चाहें, तो निकाल सकते हैं, लेकिन इसके बाद उसे पेंशन की राशि नहीं मिलेगी। यदि बीच में किसान की मृत्यु हो जाए, तो उसकी पत्नी को जमा राशि ब्याज सहित मिलेगी।

क्या है मानधन योजना


मानधन योजना के तहत 18 से 40 आयु वर्ग के किसान योजना का लाभ उठा सकते हैं। 55 से 200 रुपए प्रति महीने का योगदान किसानों को देना होगा। योजना से जुडऩे के समय उनकी आयु के आधार पर धनराशि का निर्धारण किया जाएगा। किसान द्वारा दी जाने वाले राशि के बराबर की धनराशि का योगदान केंद्र सरकार करेगी। किसान की उम्र 18 वर्ष है तो 55 रुपए महीना देना होगा। 19 है तो 58, 20 में 61, 21 में 64, 22 में 68 रुपए, 23 में 72 रुपए प्रति महीना देना होगा। इसी तरह 24 वर्ष में 76, 25 वर्ष 80, 26 में 85, 27 में 90, 28 में 95, 29 वर्ष में 100, 30 वर्ष है तो 105, 31 वर्ष है तो 110 रुपए, 32 में 120, 33 में 130, 34 में 140, 35 में 150, 36 में 160, 37 में 170, 38 है तो 180, 39 है 190, 40 उम्र है 200 रुपए प्रति महीने किसानों को देना होगा। 60 वर्ष होने पर 3 हजार रुपए प्रति माह पेंशन मिलेगी।

राज्य में बलरामपुर जिला दूसरे क्रम पर

मानधन योजना के लिए पंजीयन कराने के मामले में राज्य में दूसरे स्थान बलरामपुर है। इसके साथ ही तीसरे स्थान पर जांजगीर-चांपा का है। पंजीयन कराने के लिए किसान आगे आ रहे हैं।

पंजीयन प्रक्रिया जारी

महासमुंद जिला देश व राज्य में पंजीयन के मामले में प्रथम स्थान पर चल रहा है। किसानों में उत्साह नजर आ रहा है। अब तक 11502 किसानों द्वारा पंजीयन कराया गया है। पंजीयन प्रक्रिया अभी भी जारी है
श्यामल शर्मा, जिला समन्वयक