स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आधी रात फाइनेंस कंपनी के डेवलपमेंट ऑफिसर से पिस्टल दिखाकर 85 हजार की लूट

Ashish Gupta

Publish: Jul 14, 2019 18:34 PM | Updated: Jul 14, 2019 18:34 PM

Mahasamund

Miscreants lootMiscreants loot: महासमुंद में लूट फाइनेंस कंपनी के डेवलपमेंट अफसर से तीन लुटरों ने पिस्टल अड़ाकर 85 हजार रुपए लूट लिए।

महासमुंद. छत्तीसगढ़ के महासमुंद में आधी रात लूट का मामला सामने आया है, जहां फाइनेंस कंपनी के डेवलपमेंट अफसर और उनके साथी से तीन लुटरों (Miscreants loot) ने पिस्टल अड़ाकर 85 हजार रुपए लूट लिए। बताया जाता है कि लुटेरों ने दोनों के ऊपर पेट्रोल छिड़कर जलाने की धमकी दी। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 341, 379 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

दरअसल, घटना सांकरा थाना क्षेत्र के ग्राम जेराभरन मोड़ के पास 8 जुलाई की रात साढ़े 12 बजे की है। पुलिस के अनुसार ग्राम जुनाडीह पोस्ट महुदा थाना बलौदा जिला जांजगीर के संजय कुमार यादव अन्नपूर्णा फाइनेंस कंपनी पिथौरा में डेवलपमेंट ऑफिसर के पद पर पदस्थ है। वह सांकरा थाने में लिखित आवेदन दिया कि 8 जुलाई को साढ़े आठ बजे अपने साथी सोमकुमार घृतलहरे के साथ पैसा कलेक्शन के लिए ग्राम बारिकपाली टुकड़ा थाना सांकरा आया था।

लव मैरिज करने पर बहन का दुश्मन बन गया भाई, जीजा पर चाकू से किया जानलेवा हमला

दुर्गा महिला, शांति, सरस्वती, जयमहालक्ष्मी महिला समूह के कुल 29 सदस्यों से 85350 रुपए कलेक्शन कर वापस मोटर साइकिल से पिथौरा आ रहा था। मोटर साइकिल को सोमकुमार चला रहा था। रास्ते में ग्राम जेराभरन से आगे मोड़ के पास करीब साढ़े 12 बजे तीन अज्ञात व्यक्ति मोटर रोड पर खड़े थे। इसमें से एक व्यक्ति ने मोटर साइकिल को रुकवाया। जैसे ही सोमकुमार ने मोटर साइकिल रोका अज्ञात व्यक्ति ने मोटर साइकिल को बंद कर दिया और पूछने पर गला दबाकर झुकाया और दूसरे ने दोनों के ऊपर पेट्रोल छिड़का।

तीसरे व्यक्ति ने अपने पास रखे पिस्टल को निकाला। दोनों को आग लगा देने व पिस्टल से मारने की धमकी देते हुए धक्का मुक्की कर पीठ पर रखे बैग को लूट लिया। धक्का मुक्की होने पर दोनों खेत की ओर भागे। बाद में जब पलटकर देखें तो तीनों युवक नीले रंग की पल्सर में बैठकर परसवानी रोड की ओर भाग गए।

मर्जी से शादी कर प्रेमी संग घर लौटी बहन को सामने देख भाई ने खोया आपा और फिर..

इसके बाद उक्त घटना की जानकारी बारिकपाली टुकड़ा में ग्रुप के सदस्यों व अपने उच्च अधिकारियों को फोन से सूचना दी। प्राप्त आवेदन जांच उपरांत पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। पीडि़त ने पुलिस को बताया कि बैग में महिला समूहों के कलेक्शन किए गए 85 हजार 350 रुपए, एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, गाड़ी का कागजात, परिचय पत्र, डायरी, एमप्लाई आईडी रखा हुआ था। बतादें कि फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों से लूट की दूसरी घटना सामने आई है।

Miscreants loot से जुड़ी खबरें यहां पढ़िए

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर या Download करें patrika Hindi News App.