स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस साल किस दिन मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्ठमी और जानें कैसे करें इसकी पूजा

Akanksha Agrawal

Publish: Aug 18, 2019 12:50 PM | Updated: Aug 18, 2019 12:50 PM

Mahasamund

कृष्ण जन्माष्ठमी हिंदुओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान विष्णु ने श्री कृष्ण के रूप में अपना आठवां अवतार लिया था।

महासमुंद. इस साल जन्माष्ठमी के त्यौहार को लेकर कई प्रकार की लोगों में इस बात की उलझन है कि यह त्यौहार 23 अगस्त को मनाया जाएगा या फिर 24 अगस्त को? कई जगहों पर जन्माष्ठमी 23 अगस्त को कई जगहों पर जन्माष्ठमी 24 अगस्त को मनाया जा रहा है। पंडितों के अनुसार श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद की अष्ठमी को हुआ था, इसलिए यह त्यौहार 23 अगस्त को ही मनाया जाएगा।

कृष्ण जन्माष्ठमी हिंदुओं के प्रमुख त्यौहारों में से एक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान विष्णु ने श्री कृष्ण के रूप में अपना आठवां अवतार लिया था। साथ ही श्री कृष्ण को भगवान विष्णु का सबसे शक्तिशाली अवतार भी माना जाता है। इसलिए देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्ठमी की धूम होती है।

ऐसे करें जन्माष्ठमी की पूजा
अष्ठमी के दिन सुबह उठकर स्नान करने के बाद पूजा वाले स्थान को साफ पानी से धो लेना चाहिए। इसके बाद मंदिर में लड्डू गोपाल की मूर्ति को रखें और फूल चढ़ाकर पूजा करें। इसके बाद रात 12 बजे भगवान श्री कृष्ण का जन्म के समय पूजा करें और एक पालना या झूला बनाकर उसमें लड्डू गोपाल को झूलाएं।

Janmashtami की खबर यहां बस एक क्लिक में

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें