स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कारगिल विजय दिवस पर राजधानी में याद किये जाएंगे शहीद, होंगे यह कार्यक्रम

Ritesh Singh

Publish: Jul 20, 2019 17:57 PM | Updated: Jul 20, 2019 17:57 PM

Lucknow

60 दिनों की लड़ाई में जाबांज सैनिकों याद किया जाएगा

लखनऊ, 26 जुलाई को कारगिल युद्ध में हुई शानदार विजय के उपलक्ष्य में ‘कारगिल विजय दिवस’ मनाया जाता है और हम इस दिन कारगिल के जाबांज शहीद सैनिकों के सम्मान में विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

60 दिनों की लड़ाई में जाबांज सैनिकों याद किया जाएगा

वर्ष 1999 का वह ऐतिहासिक दिन जब हमारे भारतीय सेना के जाबांज सैनिकों ने लगातार 60 दिनों की लड़ाई के बाद लद्दाख क्षेत्र से लेकर हिमालय तक अत्यन्त दुर्गम व जोखिम तथा ग्लेशियर से भरे गगनचुंबी चोटियों पर स्थित चौकियों पर सफलता पूर्वक फतेह हासिल की। कारगिल विजय दिवस की 20वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में मध्य कमान के अंतर्गत आनेवाले परिक्षेत्रों के सातों राज्यों में कारगिल के जांबाज शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए श्रद्धांजलि समारोह सहित विविध कार्यक्रमों का आयोजन सेना की मध्य कमान द्वारा किया जायेगा।

राजधानी में यह होंगे कार्यक्रम

कारगिल दिवस के उपलक्ष्य में 22 जुलाई से लखनऊ के स्कूली बच्चों के लिए पेंटिंग प्रतियोगिताओं सहित वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। 26 जुलाई को बच्चे लखनऊ छावनी स्थित मध्य कमान के युद्ध स्मारक ‘स्मृतिका’ जाकर अपने जाबांज शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देगें। तदोपरांत छावनी स्थित पुनीत दत्त प्रेक्षागृह में आयोजित एक कार्यक्रम में कारगिल युद्ध में भाग लेनेवाले भूतपूर्व युद्ध सैनिक बच्चों को कारगिल युद्ध की गाथा सुनायेगें और अपनी युद्ध अनुभवों को उनसे साझा करेगें। इसी क्रम में 26 जुलाई को मध्य कमान के युद्ध स्मारक ‘स्मृतिका’ पर एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम भी आयोजित किया जायेगा जहॉं स्टेशन के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों सहित सेना के जवान जांबाज शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

शहरवासियों के लिए होंगे दो दिन खास

कारगिल विजय दिवस के उपलक्ष्य में शहरवासियों के लिए 27 जुलाई को जनेश्वर मिश्र पार्क में तथा 28 जुलाई को हुसैनाबाद क्लॉक टावर के पास शाम 6 बजे से शाम 7: 30 बजे तक फ्यूजन बैंड डिस्प्ले कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। दोनों दिनों में यह संगीत कार्यक्रम शहरवासियों के लिए नि:शुल्क प्रवेश के साथ खुला रहेगा। यह कार्यक्रम लखनऊ की नागरिक प्रशासन की सहायता से आयोजित किया जा रहा है।