स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान में ये हो सकती है Lok Sabha Election की तारीख, 2 चरणों में होंगे चुनाव!

Dinesh Saini

Publish: Feb 21, 2019 12:47 PM | Updated: Feb 21, 2019 12:47 PM

Loksabha Election 2019

मई में तेज गर्मी को देखते हुए इस बार भी अप्रेल में ही चुनाव राज्य में हो सकते हैं...

जयपुर।

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) की घोषणा को लेकर उलटी गिनती शुरू हो गई है। 15 दिन में चुनावों की घोषणा होगी और प्रदेश में दो चरणों में चुनाव होंगे। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा भी दौरा कर चुनाव तैयारियों को अंतिम रूप दे चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रदेश में पहले चरण में 8-10 व दूसरे चरण में 15-17 क्षेत्रों में चुनाव कराए जा सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक 2014 में राज्य में पहले चरण में 17 अप्रेल, दूसरे चरण में 24 अप्रेल को चुनाव हुए थे। मई में तेज गर्मी को देखते हुए इस बार भी अप्रेल में ही चुनाव राज्य में हो सकते हैं।

 

पहले में 11, दूसरे में 14 लोकसभा में चुनाव!
प्रथम फेज - जयपुर, जयपुर ग्रामीण, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा, टोंक-सवाई माधोपुर, कोटा, झालावाड़
द्वितीय फेज - गंगानगर, बीकानेर, चूरू, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर, उदयपुर, बांसवाड़ा, नागौर, चित्तौडगढ़़, राजसमंद, भीलवाड़ा
(पहले फेज में 88 विधानसभा और 14 जिलों के क्षेत्र तथा दूसरे फेज में 112 विधानसभा और 21 जिलों के क्षेत्र आएंगे। इन फेजों में चुनाव को लेकर पुलिस व प्रशासन तैयारी कर रहा है। हालांकि घोषणा में यह तय होगा)

 

5 करोड़ मतदाता चुनेंगे 25 सांसद
लोकसभा चुनाव को लेकर राज्य की नई मतदाता सूची को अंतिम रूप दिया जा रहा है। 22 फरवरी को मतदाता सूची जारी की जाएगी। अभी राज्य में करीब 5.86 करोड़ मतदाता है। लेकिन संक्षिप्त पुनरीक्षण के बाद वर्तमान मतदाताओं में से 5 लाख के नाम कट सकते हैं और 15 लाख के आसपास नए नाम जुड़ सकते हैं।

 

एक और मौका
भारत निर्वाचन आयोग चुनाव से पहले मतदाता सूची में नाम जुड़वाने को लेकर एक और मौका दे सकता है। 2 और 3 मार्च को राज्यभर में बूथों पर आवेदन लेने को लेकर मतदान केन्द्रों पर शिविर लगाए जा सकते हैं। कम मतदान वाले दस जिलों का होगा चुनाव विश्लेषण: राज्य में चुनाव से पहले 10 जिलों के 2014 के मतदान प्रतिशत का विश्लेषण होगा, जहां सबसे कम मतदान हुआ था। इस संबंध में चुनाव आयोग से मिले निर्देशों के बाद निर्वाचन विभाग ने कवायद शुरू कर दी है।

 

2014 चुनाव: यहां कम हुआ था मतदान
जिले मतदान प्रतिशत
राजसमंद 59.84
धौलपुर 59.83
झुंझुनूं 59.82
सवाई माधोपुर 59.76
जोधपुर 59.63
जालौर 59.06
नागौर 58.43
पाली 57.76
भरतपुर 57.33
बीकानेर 56.27
करौली 50.69