स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पत्रिका डॉट कॉम को मिला बेस्ट हिंदी न्यूज पोर्टल अवॉर्ड

Saurabh Sharma

Publish: Jul 13, 2019 20:35 PM | Updated: Jul 14, 2019 08:56 AM

Corporate

शनिवार को CPAI के 7th International Convention में Patrika.com को बेस्ट हिंदी न्यूज पोर्टल अवॉर्ड से नवाजा गया।

नई दिल्ली। बहुत कम समय में यूज़र्स के बीच लोकप्रिय हो चुका पत्रिका डॉट कॉम ( patrika.com ) नित नई उपलब्धियां हासिल कर रहा है। नई दिल्ली में शनिवार को आयोजित कमोडिटी पार्टिसिपेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ( cpai ) के 7वें इंटरनेशनल कंवेंशन ( 7th International Convention ) में Patrika.com को बेस्ट हिंदी न्यूज पोर्टल अवॉर्ड से नवाजा गया। बिजऩेस सम्बन्धी ख़बरों के बेहतरीन कवरेज के लिए पत्रिका को यह अवार्ड दिया गया। पत्रिका की ओर से इसे बिजनेस एडिटर ( ऑनलाइन ) मनीष रंजन ने ग्रहण किया।

यह भी पढ़ेंः- वर्ल्ड कप 2019 में भारतीय क्रिकेट टीम के बाहर होने से विज्ञापन जगत को भारी नुकसान, टीआरपी पर भी बुरा असर

5 ट्रिलियन की इकोनॉमी बनाने में रहेगा कमोडिटी का अहम योगदान
कार्यक्रम में मौजूद वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने पत्रिका डॉट कॉम के सवाल के जवाब में कहा कि कमोडिटी मार्केट लगातार आगे बढ़ रहा है। उनकी सरकार भी कमोडिटी मार्केट को लेकर काफी काम कर रही है। उन्होंने कहा कि देश को 5 ट्रिलियन की इकोनॉमी बनाने में कमोडिटी मार्केट का अहम योगदान रहने वाला है। जिसमें कमोडिटी मार्केट से जुड़ी सभी संस्थाओं और लोगों के सहयोग की जरुरत है।

यह भी पढ़ेंः- जून माह में खुदरा महंगाई दर बढ़कर 3.18 फीसदी रही, खाने पीने की चीजें हुई महंगी

इस कैटेगिरी में Patrika.com को अवाॅर्ड
कमोडिटी पार्टिसिपेशन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के कार्यक्रम में कमोडिटी, इक्विटी, मीडिया समेत कई क्षेत्रों के विशेषज्ञों को अवॉर्ड दिए गए। मीडिया कैटेगिरी में डिजिटल हिंदी बिजनेस के लिए पत्रिका डॉट कॉम को अवॉर्ड दिया गया। इस मौके पर बात करते हुए एजेंल ब्रोकिंग कमोडिटीज एंड रिसर्च के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट अनुज गुप्ता ने पत्रिका डॉट कॉम से खास बातचीत में बताया कि कमोडिटी किसी भी इकोनॉमी का बेहद अहम हिस्सा है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि CPAI बीते सात सालों से इस समारोह का आयोजन कर रहा है और समारोह में कमोडिटी से जुड़े देशभर के कारोबारी और विशेषज्ञ आते हैं। इस समारोह में कमोडिटी से जुड़ी चुनौतियों और उनके समाधान के बारे में चर्चा की जाती है।

 

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.