स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आईएफए सर्वे में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल टॉप पर, एचडीएफसी दूसरे क्रम पर

Manish Ranjan

Publish: Sep 14, 2019 16:53 PM | Updated: Sep 14, 2019 16:53 PM

Corporate

  • वेल्थ फोरम एडवाइजर कांफिडेंस 2019 सर्वे
  • आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड शीर्ष पर रही
  • वेल्थ फोरम का यह 8 वां सर्वे देश के 45 शहरों के उन 245 स्वतंत्र वित्तीय सलाहकार (आईएफए) के बीच किया गया

नई दिल्ली। वेल्थ फोरम एडवाइजर कांफिडेंस के 2019 के निवेशकों को बेहतर रिटर्न देने और कम जोखिम के सर्वे में देश की अग्रणी म्यूचुअल फंड आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड शीर्ष पर रही है। जबकि एचडीएफसी म्यूचुअल फंड दूसरे क्रम पर रहा है। 4 बड़ी कटेगरी में से तीन कटेगरी में आईप्रू शीर्ष पर रहा है।

वेल्थ फोरम का यह 8 वां सर्वे देश के 45 शहरों के उन 245 स्वतंत्र वित्तीय सलाहकार (आईएफए) के बीच किया गया, जो अपने शहर में शीर्ष 5 फीसदी में आते हैं। सर्वे में पिछले 6 सालों से लगातार आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड इक्विटी में शीर्ष पर रहा है। इस सर्वे में लंबी अवधि में इक्विटी में बेहतर रिटर्न देने के मामले में आईप्रू शीर्ष पर रहा, जबकि एचडीएफसी म्यूचुअल फंड दूसरे और मिरै तीसरे क्रम पर रहा। डेट फंड से बेहतर रिटर्न देने के मामले में आईप्रू दूसरे पर और फ्रैंकलिन टेंपलटन पहले क्रम पर रहा। इसी तरह हाइब्रिड फंड्स से बेहतर रिटर्न देने में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल पहले क्रम पर और एचडीएफसी फंड दूसरे क्रम पर जबकि कोटक तीसरे क्रम पर था।

सर्वे में यह पता चला कि जोखिम से संबंधित पैसों को सुरक्षित रखने में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल पहले क्रम पर है जबकि एचडीएफसी दूसरे और फ्रैंकलिन टेंपलटन तीसरे क्रम पर है। वितरण प्रशिक्षण के मामले में फ्रैंकलिन टेंपलटन पहले क्रम पर जबकि आईप्रू दूसरे पर और आदित्य बिड़ला तीसरे क्रम पर रहा। निवेशकों को संबंधित शैक्षणिक तथा असरदार पहल में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल शीर्ष पर रहा जबकि फ्रैंललिन टेंपलटन दूसरे और एचडीएफसी म्यूचुअल फंड तीसरे क्रम पर रहा।

यह सर्वे बिजनेस कांफिेडेंस जैसे कमीशन में कमी, इक्विटी में उतार-चढ़ाव औऱ् क्रेडिट एक्सीडेंट आदि पर किया गया था। भारत के ज्यादातर बड़े आईएफए नए निवेशकों के साथ जुड़ रहे हैं और वे उन निवेशकों को ला रहे हैं, जो सूचनाओं को प्राप्त करने के लिए डिजिटली साक्षर हैं और सभी पर्सनल फाइनेंस डिजिटल रूप से करते हैं।