स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चलती ट्रेन से उतरने की कोशिश में गिरकर हाईकोर्ट के वकील के कटे दोनों पैर

Ruchi Sharma

Publish: Nov 05, 2019 13:57 PM | Updated: Nov 05, 2019 13:59 PM

Lalitpur


गम्भीर हालत में जिला चिकित्सालय से झांसी रैफर
बड़ी भाभी की तेरहवीं में सम्मलित होने अपने मूल निवास पर आये थे

ललितपुर. चलती ट्रेन से उतरते समय गिरने से हाई कोर्ट के वकील गंभीर रूप से घायल हो गए। ट्रेन के नीचे आने से उनके दोनों पैर कट गए गंभीर हालत में पुलिस ने उन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां से उन्हें झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया।


बताया गया है कि हाईकोर्ट के 70 वर्षीय वकील बृज बल्लभ दास मालवीय को ट्रेन द्वारा इलाहाबाद से चलकर ललितपुर से 10 किलोमीटर दूर जाखलौन स्टेशन पर पहुंचना था । जब वह ट्रेन से ललितपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे तो ट्रेन रुकी तब उन्होंने यह जानकारी नहीं की कि उक्त ट्रेन जाखलौन रूकती है या नहीं। मगर जब ट्रेन चलने लगी तब उन्होंने ट्रेन में ही किसी सहयात्री से पूछा तब सहयात्री ने मना कर दिया कि यह ट्रेन जाखलौन रेलवे स्टेशन पर नहीं रुकेगी ।

ललितपुर रेलवे स्टेशन से छुटी ट्रेन धीमी गति से रेलवे क्रॉसिंग पार कर रही थी तभी वह ट्रेन से उतरने की कोशिश करने लगे और हाथ टूटने से वह ट्रेन के नीचे आ गए जिससे उनके दोनों पैर कट गए और वह गंभीर हालत में घायल हो गए । सूचना पर नेहरू नगर चौकी इंचार्ज सुजीत कुमार ने पहुंचकर उन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया । बड़ी दुर्घटना के बाद भी उन्होंने धैर्य से काम लिए और बेहोस नहीं हुए तथा उन्हीं के द्वारा बताये गए उनके परिजनों को पुलिस द्वारा सूचित किया । परिजनों के आने के बाद जिला अस्पताल में तैनात डॉक्टर कलीम जावेद ने हालत गंभीर होने पर उन्हें झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।


परिजनों ने बताया कि वह मूलतः जनपद ललितपुर के थाना पाली के स्थानीय कस्बा के निवासी हैं । काफी दिनों से वह प्रयागराज में रहकर हाईकोर्ट की वकालत कर रहे थे और उनकी बड़ी भाभी के निधन के बाद उनकी तेरहवीं में सम्मलित होने अपने घर आए थे तभी यह दुर्घटना घटी।

[MORE_ADVERTISE1]