स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रेलवे ट्रैक पर अचानक आई बाढ़, बीच रास्ते हजारों यात्रियों की अटकी जान, कई ट्रेनों को रोका गया, मचा हड़कंप

Abhishek Gupta

Publish: Aug 15, 2019 14:48 PM | Updated: Aug 16, 2019 15:23 PM

Lalitpur

उत्तर प्रदेश व मध्यप्रदेश में तीन दिन से हो रही मूसराधार बारिश के कारण रविवार को बॉर्डर पर रेल्वे ट्रैक पूरी तरह डूब गया।

ललितपुर. बाढ़ (Flood) का संकट अब यूपी के मंडराने लगा है। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) व मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में तीन दिन से हो रही मूसराधार बारिश के कारण रविवार को बॉर्डर पर रेल्वे ट्रैक पूरी तरह डूब गया। सुबह आठ बजे ही अचानक बाढ़ आने से भोपाल-झांसी रेल लाइन (Bhopal-Jhansi rail line) पर धौर्रा मुहासा स्टेशन के बीच रेल्वे ट्रेक डूब गया। ललितपुर और मध्यप्रदेश के बीना रेलवे स्टेशनों के बीच पड़ने वाले द्वारा और मोहासा रेलवे स्टेशनों के बीच पहाड़ी क्षेत्र में रेलवे ट्रैक पर बारिश का पानी कुछ इस तरह भर गया कि रेलवे ट्रैक नदी में तब्दील हो गया। इस कारण कई ट्रेनों को बीच रेलवे ट्रैक पर ही रोकना पड़ गया है। कई अप और डाउन लाइन की ट्रेन बीना और झांसी के बीच पड़ने वाले स्टेशनों पर फंस कर रह गई हैं। इससे हजारों यात्रियों की जान पर आफत आई गई है।

दर्जनों ट्रेनों झांसी-ललितपुर रेल ट्रैक पर रोकी गई हैं...
वहीं इटारसी-झांसी पैसेंजर (51827) मोहांसा के पास पहाड़ी में कटाव वाले में पानी के भराव होने से करीब सुबह 8 बजे से फंसी हुई है। यात्री जोखिम उठाकर निकलने की कोशिश करते हुए देखें गए। कई घंटों से ऐसे स्थिति होने की वजह से भोपाल- झांसी रुट बाधित है। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर जाने वाली आधा दर्जन से अधिक ट्रेनें लेट हो गईं। वहीं झाँसी से बीना जा रही पैसेंजर ट्रेन ललितपुर स्टेशन पर रद्द कर दी गई।

Flood

ट्रैक खुलवाने की कोशिश जारी-

रेलवे ट्रैक पर पानी भर जाने की सूचना जैसे ही रेल अधिकारियों को मिली वैसे ही वही रेल अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और ट्रैक खुलवाने की कोशिश कर रहे हैं। बताया कि मध्यप्रदेश के सागर के बीना के ग्राम मोहसा व अन्य ग्रामों में लगतार रात भर बारिश होने के चलते धौर्रा स्टेशन व मोहसा स्टेशन के बीच में पहाड़ के बीच से रेल लाइन निकली हैं। बारिश के चलते पहाड़ से पानी की मोटी धार सीधे डाउन लाइन पर गिरने से रेल ट्रैक पानी में डूब गया। स्थिति यह कि ट्रैक पर तीन से चार फुट पानी भरा हुआ हैं और रेलवे ट्रैक नदी के रूप में तब्दील हो गया हैं।

Flood

यह ट्रेनें हुई प्रभावित-

इसके चलते मोहसा स्टेशन के निकट भोपाल से झाँसी जा रही पैंसेजर ट्रेन 51827 सुबह 8 बजे से बीच ट्रक पर सुबह से ही खड़ी हैं। जिसके चलते भोपाल से झाँसी जा रही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस ट्रेन को मार्ग बदल दिया गया और यह ट्रेन बीना से कोटा के मार्ग से होते हुए माथुरा निकाली जा रही हैं । भोपाल से दिल्ली की जाने वाली पंजाब मेल, समता, झेलम एक्सप्रेस ट्रेन सहित आधा दर्जन ट्रेन बीना के पहले खड़ी कर दी गई हैं । भोपाल से खजुराओ जाने वाली महानामा एक्सप्रेस ट्रेन 22163 बीना में रद्द कर दी गई । ट्रेनों के रद्द होने व लेट होने के चलते यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा रहा।

Flood

रेल अधिकारियों ने कहा यह-

इस मामले में रेल अधिकारियों का कहना है कि रेलवे ट्रैक से पानी निकालने के इंतजाम आज किए जा रहे हैं जल्द ही आवागमन शुरू कर दिया जाएगा, हालांकि लगातार हो रही बरसात से जलभराव की स्थिति लगातार बनी हुई है।