स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सड़कों पर पशुओं को छुट्टा छोड़ने वालों पर डीएम की सख्ती, लगाया 30 हजार का जुर्माना

Karishma Lalwani

Publish: Sep 10, 2019 17:17 PM | Updated: Sep 10, 2019 17:22 PM

Lalitpur

- सड़कों पर अपने पशुओं को छुट्टा छोड़ने वालों के खिलाफ डीएम मानवेंद्र सिंह हुए सख्त

ललितपुर. जनपद में कई गौशाला संचालित होने के बावजूद पशुपालकों और चरवाहों द्वारा जानवरों को सड़कों पर छुट्टा छोड़ दिया जाता है। इससे आए दिन सड़क दुर्घटनाएं होती रहती हैं जिनमें कई लोगों की जानें भी गई हैं। इन घटनाओं की लिखित रूप से शिकायत पीड़ितों द्वारा कई बाल जिलाधिकारी से की गई। शिकायतों का संज्ञान लेकर जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह (DM Manvendra Singh) ने जनपद सीमान्तर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर छुट्टा घूम रहे निराश्रित गोवंश व आश्रित गोवंश भैंसों का निरीक्षण किया। इसमे निराश्रित गोवंश को निकटतम "गोवंश आश्रय स्थल" में एक सप्ताह में प्रत्येक दशा में संरक्षित रखे जाने के निर्देश दिये गए।

सड़कों पर पशुओं को छुट्टा छोड़ने वालों पर डीएम की सख्ती, लगाया 30 हजार का जुर्माना

संबंधित व्यक्ति के खिलाफ होगी कार्रवाई

जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने निरीक्षण के दौरान सात ऐसे व्यक्तियों पर 30 हजार का जुर्माना लगाया, जो अपने गोवंशों को सड़कों पर छोड़ देते हैं। जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधानों, लेखपालों और ग्राम पंचायत अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोई भी निराश्रित गोवंश सड़क पर नहीं आना चाहिए। अगर कोई भी निराश्रित गोवंश सड़क पर पाया गया, तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी। समस्त उपजिलाधिकारी तहसीलदार खण्ड विकास अधिकारी को अपने क्षेत्रान्तर्गत निरन्तर निरीक्षण करने के निर्देश दिये गए। राष्ट्रीय राजमार्ग पर गोस्वामियों द्वारा अपने गोवंश भैंस आदि छोड़ दिये जाते हैं, जिनसे राष्ट्रीय राजमार्ग पर दुर्घटनायें होती रहती है जिनके लिए वह स्वयं उत्तरदायी है। ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित करते हुए उनके विरूद्ध तत्काल प्राथमिकी दर्ज कराने के आदेश दिये गए। आगाह किया कि जो भी व्यक्ति ऐसा करते हुए कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें: कैबिनेट बैठक में 11 प्रस्तावों पर लगी मुहर, सरकारी नौकरी में आवेदन के लिए बढ़ी उम्र सीमा