स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिस दिन जेल से निकली और लोगों को भी मारूंगी गोली, पुलिस की मौजूदगी में भाभी ने सरेआम दी धमकी, पति और देवर को मारा

Nitin Srivastva

Publish: Sep 16, 2019 10:53 AM | Updated: Sep 16, 2019 10:53 AM

Lalitpur

पहले पति, फिर देवर को मारी गोली, अब पुलिस के सामने दी धमकी, करेगी और मर्डर...

ललितपुर. पुलिस की गिरफ्त में खड़े होकर प्रेमी के साथ कातिल भाभी ने बेखौफ होकर कहा कि अगर जमीन, मकान नहीं मिला तो और भी हत्याएं होंगी। जी हां आपने सही सुना, जमीन जायदाद के आगे इस भाभी की नजरों में रिश्तो का कोई मोल नहीं। न कोई देवर, न कोई देवरानी सिर्फ प्रेमी और मकान। जमीन के टुकड़े और एक मकान के लिए भाभी ने अपने प्रेमी संग मिलकर अपने ही सगे देवर को मौत की नींद सुला दिया और प्रेमी मौके से फरार हो गई।


जमीनी विवाद में भाभी ने देवर को मारा

मामला थाना मडावरा के स्थानीय कस्बे के टौरिया मोहल्ले का है। जहां जमीनी विवाद में राजेश कोच्वंदिया जाति के युवक को उसकी ही भाभी लक्ष्मी ने अपने प्रेमी वीर बहादुर के साथ मिलकर गोली मारकर हत्या कर दी। इसका कारण जमीन और उस मकान को बताया गया जिसमें मृतक देवर परिवार के साथ रहता था। अगर ग्रामीणों की मानें तो लगभग 6 साल पहले आरोपी महिला लक्ष्मी अपने पति राकेश की भी अवैध संबंधों के चलते हत्या करवा चुकी है। महिला के अवैध संबंध वीर बहादुर नामक व्यक्ति से हैं, जिसमें उसका पति राकेश अड़चन बन रहा था। इसीलिए उसने अपने पति को ही रास्ते से हटा दिया था। हत्या के संबंध में वह जेल गई थी और जमानत पर छूटकर बाहर आई और अब उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर देवर की हत्या कर दी।


भाभी प्रेमी के साथ फरार

अपने देवर की हत्या करने के बाद भाभी अपने प्रेमी के साथ मौके से फरार हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस ने दोनों ही आरोपियों के खिलाफ धारा 302 में मामला पंजीकृत कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी। थाना मडावरा पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दोनों ही आरोपियों को धर दबोचा और खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार विजेता ने बताया कि दोनों ही आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त होने वाले असलहा को भी बरामद कर लिया है और दोनों को जेल भेजा जा रहा है।


मकान नहीं मिला, तो होंगी और भी हत्याएं

जेल जाते समय हत्यारिन भाभी लक्ष्मी ने स्वीकार किया कि उसने ही अपने प्रेमी संग मिलकर अपने देवर की हत्या की थी। क्योंकि देवर ने उसके मकान पर कब्जा कर लिया था और वह मकान खाली नहीं कर रहा था। उसने साफ तौर पर पुलिस और कानून से बेखौफ होकर यह भी स्पष्ट किया कि जेल से आने के बाद अगर उसे वह मकान नहीं मिला, तो वह और भी हत्याएं कर सकती है। वह और लोगों को भी गोली मारेगी। जिसका समर्थन उसके प्रेमी ने किया। इसका सीधा मतलब है कि देवर की हत्या पर उसे कोई अफसोस नहीं, बल्कि उसने तो दो टूक शब्दों में स्पष्ट किया कि अगर मकान नहीं मिला तो वह कई हत्याएं कर सकती है। हर हाल में उसे मकान चाहिए।

यह भी पढ़ें: गोलियों से भूना गया यूपी-एमपी का सबसे खुंखार डकैत, इस डाकू ने ही सीना कर दिया छलनाी, सालों से पुलिस थी परेशान