स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लोकार्पण समारोह होने से पहले ही गरमाई राजनीति

Hemant Kumar Joshi

Publish: Sep 14, 2019 11:02 AM | Updated: Sep 14, 2019 11:02 AM

Kuchaman City

कुचामनसिटी. Politics heats up even before release ceremony लोकार्पण होने से पहले ही यह कार्यक्रम राजनीति की भेंट चढ गया है। शनिवार को विधायक महेन्द्र चौधरी के हाथों अंबेडकर भवन, देवनारायण छात्रावास व उपकोष कार्यालय का लोकार्पण कार्यक्रम है लेकिन इससे पहले ही इसमें राजनीति होने लगी है।

यहां नगरपालिका में भाजपा का बोर्ड है और प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है। Politics heats up गत भाजपा सरकार में स्वीकृत कर बनवाए गए अंबेडकर भवन, देवनारायण छात्रावास, उपकोष कार्यालय का शनिवार को विधायक महेन्द्र चौधरी की ओर से लोकार्पण किया जाएगा। अंबेडकर भवन मुख्यमंत्री की घोषणा पर नगरपालिका की ओर से बनवाया गया था। लेकिन अब पालिकाध्यक्ष सहित नगरपालिका का भाजपा बोर्ड में इस लोकार्पण समारोह को लेकर विरोध शुरु हो गया है।
सूत्रों के अनुसार भाजपा मण्डल अध्यक्ष राजेन्द्रसिंह प्रेमपुरा की अध्यक्षता में भाजपा कार्यकर्ताओं व पार्षदों की संगठनात्मक गोपनीय बैठक रखी गई। जिसमें पूर्व विधायक विजयसिंह चौधरी, नगरपालिका अध्यक्ष राधेश्याम गट्टाणी भी मौजूद थे। प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार इस बैठक में अध्यक्ष गट्टाणी ने बताया कि पालिका प्रशासन ने बिना अध्यक्ष को सूचना दिए ही लोकार्पण कार्यक्रम आयोजित कर लिया है और वर्तमान विधायक की ओर से लोकार्पण करवाया जा रहा है। इस मामले में पार्षदों ने भी पालिका प्रशासन पर भी पार्टीबाजी की राजनीति करने का आरोप लगाया।

14 अपे्रल को हुआ था शिलान्यास

Politics heats up even before release ceremony इस अंबेडकर भवन का प्रदेश की गत भाजपा सरकार द्वारा प्रत्येक निकाय क्षेत्र में लगभग 50 लाख रूपये की लागत से अम्बेडकर भवन का निर्माण कराया गया था। विधानसभा चुनावों से पूर्व ही इस भवन का निर्माण कार्य भी लगभग पूरा हो चुका था। लेकिन आचार संहिता लागू होने से भवन का लोकार्पण नहीं हुआ। ऐसे में अब वर्तमान सरकार के विधायक महेन्द्र चौधरी के हाथों इस भवन का लोकार्पण किया जा रहा है। गौरतलब है कि गत वर्ष 14 अप्रेल 2018 को इस भवन का शिलान्यास समारोह आयोजित किया गया था। जिसमें तत्कालीन केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद सी आर चौधरी के साथ हरीश कुमावत, पालिकाध्यक्ष राधेश्याम गट्टाणी सहित अन्य पार्षद व अंबेडकर विकास समिति के अध्यक्ष हेमराज चावला मौजूद थे। इसी प्रकार देवनारायण छात्रावास व उपकोष कार्यालय का शिलान्यास तत्कालीन विधायक विजयसिंह चौधरी के हाथों हुआ था।

नदारद हुई शिलान्यास पट्टिका

अम्बेडकर विकास समिति के अध्यक्ष हेमराज चावला ने शुक्रवार को बताया कि अंबेडकर भवन के लोकार्पण से पूर्व शिलान्यास के समय की शिलापट्टिका को दलगत भावना के मध्यनजर या तो हटाया दिया गया है। इससे क्षेत्र के अनुसूचित जाति, जनजाति, सर्व दलित एवं सर्व समाज में आक्रोश व्याप्त है। चावला ने बताया कि डॉ. भीमराव अम्बेडर नाम के भवन के साथ इस प्रकार का खिलवाड़ किया जाना सर्वदलित समाज का अपमान है। चावला ने बताया कि यदि हटाए गए शिलापट्टिका को वापस नहीं लगाया गया तो इसका विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

पालिका ईओ ने दी जानकारी-

पालिकाध्यक्ष ने जहां इस कार्यक्रम की जानकारी नहीं होने की बात कही है वहीं पालिका के अधिशासी अधिकारी श्रवणराम चौधरी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर शनिवार को विधायक महेन्द्र चौधरी की ओर से देवनारायण छात्रावास, अंबेडकर भवन एवं उपकोष कार्यालय के लोकार्पण करने की जानकारी दी है।
---
इनका कहना-

मेरे से बिना पूछे ही ईओ ने कार्यक्रम तय कर लिया है, इसलिए मैं इसके विरोध में हूं। कार्यक्रम में भी मैं हिस्सा नहीं लूंगा।
राधेश्याम गट्टाणी
अध्यक्ष, नगरपालिका, कुचामन
--
लोकार्पण की सूचना पालिकाध्यक्ष को दे दी गई थी, कार्यक्रम पालिका की ओर से आयोजित नहीं करवाया जा रहा है, शिलापट्ट अनावरण और शिलान्यास दोनों ही लगवाए जाऐंगे।
श्रवणराम चौधरी
ईओ, नगरपालिका कुचामन