स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चिकित्सा व्यवस्थाओं में लापरवाही पर गुस्साए संयुक्त निदेशक

Hemant Kumar Joshi

Publish: Sep 17, 2019 11:42 AM | Updated: Sep 17, 2019 11:42 AM

Kuchaman City

कुचामनसिटी. Joint directors angry over negligence in medical systems परिवार कल्याण के संयुक्त निदेशक एवं कायाकल्प योजना के स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ. आर. बी. जायसवाल ने सोमवार को कुचामन के राजकीय चिकित्सालय का निरीक्षण कर चिकित्साधिकारियों को मेडिकल बायोवेस्ट में किसी भी प्रकार लापरवाही नहीं बरतने की हिदायत दी और स्टाफ को ट्रेनिंग देने के निर्देश दिए।

Joint directors angry over negligence in medical systems डॉ. जायसवाल सोमवार की दोपहर नावां के चिकित्सालय का निरीक्षण करने के बाद कुचामन के राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। जहां उन्होंने मेडिकल इमरजेंसी का निरीक्षण किया। इस दौरान इमरजेंसी वार्ड में बायोवेस्ट के नियमानुसार डस्टबीन में कचरा गलत डालने के मामले में पीएमओ डॉ. शकील व नर्सिंग स्टाफ को सुधार करने की नसीहत दी और नियमानुसार ही मेडिकल वेस्ट का निस्तारण करने के निर्देश दिए। इसके बाद दवा कक्ष का निरीक्षण किया गया। जिसमें नर्सिंग स्टाफ को लगाए जाने के मामले में भी जायसवाल ने नाराजगी व्यक्त की और फार्मासिस्ट को ही दवा काउंटर पर लगाने के निर्देश दिए। पीएमओ ने बताया कि चिकित्सालय में महज एक ही फार्मासिस्ट है, जबकि 6 पद होने चाहिए। इस पर डॉ. जायसवाल ने मेडिकल रिलीफ सोसायटी से टेण्डर प्रक्रिया के तहत फार्मासिस्ट लगवाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच केन्द्र का भी निरीक्षण किया गया। जांच लैब में भी कफ और यूरीन का सही ढंग से नियमानुसार वेस्ट मैनेजमेंट नहीं होने पर सभी कार्मिकों को लताड़ लगाई। डॉ. जायसवाल ने कहा कि जब लैब में ही मरीज इंफेक्टेड होकर जा रहे हैं तो फिर जांच और सुविधाओं का आम जन को क्या फायदा होगा। उन्होंने चिकित्सालय में गंदगी को भी गंभीरता से लिया और शीघ्र ही सुधार करने के निर्देश दिए।

चिकित्सालय में उगी घास हटवाने के निर्देश

Joint directors angry over negligence in medical systems संयुक्त निदेशक डॉ. जायसवाल ने चिकित्सालय परिसर में ही उगी हुई झाडिय़ों व घास को हटवाने की बात कही। उन्होंने पीएमओ डॉ. शकील को कहा कि जो नर्सिंगकर्मी या चिकित्सक कार्य में लापरवाही बरत रहें है उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई कर दो, अन्यथा आगामी निरीक्षण के दौरान व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं मिलने पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी। पीएमओ ने कहा कि मुझे भी चार्ज संभाले हुए 4-5 दिन ही हुए है। इस पर डॉ. जायसवाल ने कहा कि कुचामन के चिकित्सक अपने निजी चिकित्सालयों पर ढंग से कार्य करते है और चिकित्सालय में व्यवस्थाएं खराब कर रखी है।