स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जेके लोन अस्पताल में की तोडफ़ोड़ व मारपीट, पुलिस ने 24 घंटे में दबोचे तीन आरोपी

DHIRENDRA TANWAR

Publish: Sep 18, 2019 21:06 PM | Updated: Sep 18, 2019 21:06 PM

Kota

आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमला, राजकार्य में बाधा, सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने, मारपीट करने का है मामला दर्ज

कोटा. जेके लोन चिकित्सालय में तोडफ़ोड़ व संविदाकर्मी से मारपीट करने के मामले में पुलिस ने घटना के 24 घंटे के भीतर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। कोटा सिटी एसपी दीपक भार्गव ने बताया कि बुधवार को जेके लोन चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. हीरालाल मीणा ने पुलिस में दर्ज करवाई रिपोर्ट में बताया कि केशवपुरा निवासी कंचनबाई (32) को मंगलवार को चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया।

Read more : शनि आज से सीधे मार्ग पर चलेंगे,अच्छे दिन आएंगे,149 साल बाद बन रही है शनि की केतु से युति, महासंयोग....

मंगलवार रात करीब सवा दस बजे कंचनबाई का भाई मनीष, उसका दोस्त आकाश व 5-6 अन्य जने आए। उन्होंने जाते समय कोटेज वार्ड के शीशे तोड़ दिए तथा पर्ची काउन्टर पर तैनात कम्प्यूटर ऑपरेटर नितेश सुमन से मारपीट की। सिक्योरिटी गार्ड जगदीश प्रसाद, स्वतंत्र राज, सत्यनारायण व चालक अन्नास अली के साथ भी मारपीट की। सुरक्षा गार्ड कक्ष के शीशे तोड़ दिए। आरोपियों ने नितेश को जीप में अपहरण कर ले जाने का प्रयास किया। गाड्र्स ने उन्हें पकडऩा चाहा तो वे फरार हो गए। सभी शराब के नशे में धुत थे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमला, राजकार्य में बाधा, सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने, मारपीट करने का मामला दर्ज किया।

Read more : निकाय लॉटरी..महापौर और उपमहापौर समेत कई नेताओं को बदलनी पड़ेगी सियासी जमीन....

एडिशनल एसपी राजेश मील ने वृताधिकारी भगवत सिंह हिंगड़ व सीआई संजय रॉयल के नेतृत्व में टीम का गठन कर आरोपियों की तलाश शुरू की। पुलिस ने मुखबिरों को सक्रिय कर छापेमार कार्रवाई शुरू की और मुख्य आरोपी महावीर नगर निवासी मनीष गलरानी (38) को गिरफ्तार किया। उसके दो साथियों संतोषी नगर निवासी चेतन (25) व संग्राम सिंह को बापर्दा गिरफ्तार किया। शेष आरोपियों की तलाश की जा रही है।