स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

संस्कृत महाविद्यालय में छात्र संघ चुनाव का बहिष्कार, छात्र मांग रहे नए भवन में पढ़ने को जगह

Suraksha Rajora

Publish: Aug 19, 2019 19:04 PM | Updated: Aug 19, 2019 19:04 PM

Kota

student union elections कुलपति, संस्कृत शिक्षा निदेशक, संस्कृत शिक्षा मंत्री व मुख्यमंत्री खिलाफ खोला मोर्चा

कोटा. संस्कृत महाविद्यालय में विद्यार्थियों ने छात्रसंघ चुनाव का बहिष्कार किया ।अजमेर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष जितेन्द्र साँखला के नेतृत्व में संस्कृत महाविद्यालय प्रशासन, संस्कृत विश्वविद्यालय कुलपति, संस्कृत शिक्षा निदेशक, संस्कृत शिक्षा मंत्री व मुख्यमंत्री का विरोध कर प्रदर्शन किया ।

पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष जितेन्द्र साँखला ने बताया कि राजकीय आचार्य संस्कृत महाविद्यालय के वर्तमान भवन अत्यधिक जर्जर अवस्था मे है और नवीन भवन 2 वर्ष से स्थानांतरण का इंतजार कर रहा है। इसलिए छात्रसंघ चुनाव का बहिष्कार करते हुए विरोध प्रदर्शन किया गया। जिसमे समस्त महाविद्यालय छात्र छात्राओं ने स्वीकृति देते हुए ओर एकमत होकर चुनाव का बहिष्कार किया।

पूर्व में कई बार ज्ञापन आंदोलन किये गए मुख्यमंत्री आवास पर जाकर छात्रसंघ अध्यक्ष एवं पदाधिकारियों ने सूचना दी और ज्ञापन ओर प्रदर्शन की प्रतिलिपियाँ भी दी। उसके बावजूद कोई कार्यवाही नही हुई। इसलिए जब तक वर्तमान भवन को नवीन भवन लोहागल में शिफ्ट नही करते तब तक छात्रसंघ चुनाव का बहिष्कार रहेगा।

प्रदर्शन के दौरान पूर्व संयुक्त सचिव लोकेश शर्मा, धर्मेन्द्र शर्मा, हिमांशु दाधीच, कुलदीप शर्मा, लखन, विष्णु शर्मा, मनीष ,मनोज दायमा, विकास, गणेश, राहुल गौड़, हिमांशु साँखला, विशाल, पंकज, खुशबू कहलात, शाश्वती, ज्योति, अनिता, पल्लवी, दीपांजलि, मोनिका, तन्नू, मनीषा ,गोविन्द, इत्यादि महाविद्यालय विद्यार्थी मौजूद रहे।