स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शव देखकर परिजनों के छलक पड़े आंसू

DILIP VANVANI

Publish: Jan 03, 2020 11:47 AM | Updated: Jan 03, 2020 11:47 AM

Kota

सड़क हादसों में जान गवाने वाले युवकों के शव जब परिजनों ने देखे तो उनके आंसू छलक पड़े। वहां मौजूद रिश्तेदारों व पड़ौसियों ने उन्हें संभाला। रावतभाटा पुलिस ने पोस्मार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिए

रावतभाटा. सड़क हादसों में जान गवाने वाले युवकों के शव जब परिजनों ने देखे तो उनके आंसू छलक पड़े। वहां मौजूद रिश्तेदारों व पड़ौसियों ने उन्हें संभाला। रावतभाटा पुलिस ने पोस्मार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिए।
थानाधिकारी रामरूप मीणा ने बताया कि भैंसरोडगढ़ निवासी मोहनलाल (40) पुत्र दलीचंद धोबी व बडोदिया निवासी सुरेश चन्द (30) पुत्र गोपाल प्रजापत का शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

Read more: पूर्व मंत्री देवनानी बोले, वोटों की राजनीति में अंधी कांग्रेस, शरणार्थी और घुसपै...
भैंसरोडगढ़ मार्ग पर गुरुवार देर शाम सवारी जीप व ट्रक की भिडं़त हो गई थी। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि जीप के परखच्चे उड़ गए। जीप में सवार भैंसरोडगढ़ निवासी मोहनलाल (40) पुत्र दलीचंद धोबी की पैरों की हड्डियां टूटने व अत्यधिक खून बहने से मौके पर मौत हो गई थी। मोहनलाल के शव को रात को ही मोर्चरी में रखवा दिया था। इस हादसे में भैंसरोडगढ निवासी भवानी बाई (40) पत्नी जयसिंह, गजेन्द्र (23) पुत्र बालकिशन, मोनू (20) पुत्र गोपाल, नरेश (45) पुत्र बरदीचंद व मऊपुरा निवासी गिरीराज पुत्र नंदानाथ घायल हो गए थे। सभी जनों के हाथ, पैरों व सिर पर चोटें आई थी। गिरीराज, नरेश व मोनू को हालत गंभीर होने पर कोटा रैफर कर दिया था।

Read more: वो दरिंदा दो साल तक बंधक बनाकर महिला का करता रहा यौन शोषण
घायलों की मची चीख-पुकार
दुर्घटना के बाद चकनाचुर हुई जीप में फंसे यात्रियों की चीख पुकार मच गई। यहां से गुजर रहे यात्रियों ने घायलों को बाहर निकाला। 108 एम्बुलेंस व निजी वाहनों की सहायता से अस्पताल पहुंचाया गया।
उधर कार की चपेट मेंं आने से बडोदिया निवासी सुरेश चन्द (30) पुत्र गोपाल प्रजापत मौत हो गई थी। वह गुरुवार शाम करीब छह बजे भैसों को लेकर जा रहा था। इस दौरान रावतभाटा जा रही कार ने टक्कर मार दी। इसे वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। घायल को निजी वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। पुलिस ने चालक को हिरासत में लेकर कार को जप्त कर लिया।

[MORE_ADVERTISE1]