स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मौत बनकर सड़कों पर दौड़ा बेकाबू लोडिंग वाहन, आधा दर्जन लोगों को कुचला, महिला की दर्दनाक मौत

Zuber Khan

Publish: Jan 16, 2020 02:34 AM | Updated: Jan 16, 2020 02:34 AM

Kota

Road Accident, Hit and run, Loading vehicles crushed peoples : राजस्थान के बूंदी शहर में एक अनियंत्रित लोडिंग वाहन 5 किमी सड़कों पर मौत बनकर दौड़ता रहा। उसने आधा दर्जन लोगों को कुचल दिया। एक महिला की दर्दनाक मौत हो गई।

बूंदी. बूंदी शहर में ट्रेफिक पुलिस का कोई कंट्रोल नहीं रहा। बुधवार शाम को शहर की सड़कों पर एक लोडिंग वाहन अनियंत्रित होकर दौड़ता रहा, ( Road Accident ) वाहन ने आधा दर्जन लोगों को घायल कर दिया, एक की मौके पर मौत हो गई। यह वाहन कोतवाली थाने के आगे से कॉलेज चौराहा फिर पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर से निकला, लेकिन किसी ने न रोका और न ही टोका। यही वाहन गणेश बाग रोड पर महिला को कुचलता हुआ निकल गया। महिला की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई।

Read More: नेशनल हाइवे पर भीषण हादसा: पुलिस से बचने के चक्कर में तीन वाहनों में जोरदार भिडंत, 3 की हालत गंभीर

जानकारी के अनुसार लोडिंग वाहन दलेलपुरा की ओर से शहर में घुसा। फिर देर तक सड़कों पर दौड़ता रहा। बस स्टैंड के निकट एक बाइक सवार को टक्कर मारी जो दूर जा गिरा। फिर वाहन आगे चला गया। गणेश बाग रोड पर नैनवां निवासी 65 वर्षीय आशा ठाकुर को कुचल दिया। उसकी मौके पर मौत हो गई। यहां एक अन्य महिला को भी चोट लगी। यहां लोडिंग चालक महिला को घसीटे हुए कई फीट दूर तक ले गया। यही नहीं लोडिंग ने आगे भी कई जनों को टक्कर मारी। ठीकरदा निवासी जुगराज गुर्जर (21), देवपुरा निवासी हिमांशु जांगिड़ (17) व ईशिता ठाकुर (23) गंभीर घायल हो गए। इन्हें बूंदी जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। सूचना पर पहुंचे कोतवाली के एसआई सत्यनारायण ने बताया कि मामले में चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया।

Read More: कोटा की सड़कों पर कदम रखने से पहले कर लीजिए भगवान को याद, 'वो' ही बचा सकते हैं आपके 'प्राण'

बेकाबू था लोडिंग
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मीरागेट पर 7-8 जने खड़े थे। तभी तेज रफ्तार में लोडिंग वाहन आया और पुलिस चौकी के यहां बाइक सवार युवक को टक्कर मारी। फिर अहिंसा सर्किल की ओर आगे बढ़ गया। लोडिंग का लोगों ने पीछा भी किया, खूब चिल्लाए भी लेकिन कहीं पुलिस नहीं दिखी। ऐसे में वह दौड़ता हुआ आगे बढ़ गया।बस स्टैंड के यहां एक बाइक सवार के बाद पैदल राहगीर को टक्कर मारी। जिसे एम्बुलेंस की मदद से जिला चिकित्सालय ले जाया गया। यहां एम्बुलेंस भी आधे घंटे बाद पहुंची। लोडिंग की गति अधिक होने से लोगों में भय व्याप्त हो गया।


सीसीटीवी टटोलेंगे
बेकाबू लोडिंग को लेकर पुलिस सूत्रों ने बताया कि सीसीटीवी को देखने पर ही इसकी सच्चाई सामने आ सकेगी। लोडिंग के नम्बरों से उसकी पहचान हो सकेगी।हालांकि रात तक पुलिस लोडिंग की पहचान नहीं कर सकी।

Read More: बड़ी खबर: मुकुन्दरा हिल्स टाइगर रिजर्व में ट्रेन से कटकर भालू की दर्दनाक मौत

12 दिन में दूसरी मौत
बेकाबू लोडिंग ने आशा को कुचल दिया।उसकी मौत हो गई, जिससे परिजनों की रुलाई फूट पड़ी। मृतक देवपुरा गणेश बाग में किसी रिश्तेदार के यहां से मिलकर टहल रही थी। पोक्सो कोर्ट क्रम संख्या-1 लोक विशिष्ट अभियोजक राकेश ठाकुर ने बताया कि परिवार में अभी छोटे भाई की मौत के 12 दिन भी पूरे नहीं हुए कि एक और घटना हो गई। मृतका के पति की भी तीन माह पहले ही मौत हो गई थी।

[MORE_ADVERTISE1]