स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोटा की कोचिंग से डॉक्टर बनेंगे तमिलानाडु के 492 सरकारी स्कूलों के बच्चे

Mukesh Gaur

Publish: Aug 19, 2019 17:43 PM | Updated: Aug 19, 2019 17:43 PM

Kota

तमिलनाडु सरकार और इटॉस एजुकेशन के बीच एमओयू

 

कोटा . इटॉस एजुकेशन प्राइवेट लि. दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले प्रतियोगी छात्रों को आगे लाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी के चलते इटॉस एजुकेशन प्राइवेट लि. अब तमिलनाडु के 492 स्कूलों में विद्यार्थियों को नि:शुल्क कोचिंग प्रदान करेगा। इसको लेकर बुधवार को चेन्नई में इटॉस एजुकेशन के महाप्रबंधक (व्यवसाय) आशीष सिंह व स्कूल एजुकेशन निदेशक डॉ. एस कन्नप्पन के बीच बुधवार को एमओयू हुआ।

read also : घर बैठे बना सकते है आप भी उच्च शिक्षा में करियर https://bit.ly/2MoIDcU

कन्नप्पन ने कहा कि तमिलनाडु सरकार के स्कूलों के छात्रों को मेडिकल प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं की वार्षिक कोचिंग देने के लिए इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत राज्य सरकार के शिक्षा विभाग और केंद्र सरकार के सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के समन्वय से राज्य के 492 सरकारी स्कूलों में कक्षा वर्ग रूम की स्थापना की गई है। इन स्कूलों में छात्रों को नियमित रूप से मेडिकल प्रवेश परीक्षा की ऑफ लाइन कोचिंग दी जाएगी। इससे छात्रों को लाभ मिलेगा। अकादमिक सहायता दी जाएगी। छात्रों के लिए टेस्ट सीरीज भी सभी स्कूलों में उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए छात्रों नियमित रूप से स्कूलों में आना होगा।