स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोटा के साथ फिर धोखा, अमरीका में खोला सेंटर, यहां क्यों नहीं?

Mukesh Gaur

Publish: Sep 18, 2019 17:58 PM | Updated: Sep 18, 2019 17:58 PM

Kota

जेईई-एडवांस्ड 2020 : कोटा में 50 हजार से अधिक विद्यार्थी कर रहे जेईई मेन की तैयारी

कोटा. पिछले दशकों में देश को हजारों आईआईटीयन और डॉक्टर-इंजीनियर देने वाले कोटा के साथ एक बार फिर धोखा हुआ है। आईआईटी की सर्वोच्च संस्था ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड (जेब) की बैठक में निर्णय लिया गया कि पहली बार जेईई-एडवांस्ड का परीक्षा केंद्र यूएसए के सेन फ्र ांसिस्कों में भी खोला जाएगा। यानी कि अमेरिका तक में जेईई का एक्जाम सेंटर होगा, पर जो शहर इसके लिए सबसे ज्यादा डिजर्व करता है, वहां की अनदेखी कर दी गई। आईआईटी दिल्ली द्वारा संचालित जेईई-एडवांस्ड-2020 परीक्षा 17 मई-2020 को आयोजित की जाएगी। सीबीटी मोड में इसका पेपर-1 सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तथा पेपर-2 दोपहर 2.30 से शाम 5.30 बजे तक होगा। आईआईटी दिल्ली के निदेशक प्रो. रामगोपाल राव ने बताया कि देश की सभी 23 आईआईटी में प्रवेश के लिए विदेश में अब तक 6 सेंटर थे, इस वर्ष अमेरिका में भी सेंटर खोलने का निर्णय लिया गया। चूंकि देश के कई आईआईटी एलुमिनी यूएसए में उच्च पदों पर कार्यरत हैं, वहां सेंटर खोलने से आईआईटी की साख बढ़ेगी।

कोटा में परीक्षा केन्द्र क्यों नहीं ?
एजुकेशन सिटी कोटा के शिक्षाविदों व कोचिंग संचालकों ने जेईई- एडवांस्ड-2020 के लिए कोटा में परीक्षा केंद्र बहाल करने की आवाज उठाई है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव पंकज मेहता ने कहा कि देश में सर्वाधिक परीक्षार्थी होने के बावजूद कोटा में इसका सेंटर क्यों नहीं खोला जा रहा। अमेरिका से पहले कोटा को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मांग की कि वे अपने निर्वाचन क्षेत्र में जेईई-एडवांस्ड-2020 का सेंटर खुलवाने का प्रयास करें। कोटा कोचिंग में 50 हजार से अधिक विद्यार्थी जेईई मेन की तैयारी कर रहे हैं। सीबीटी मोड में होने वाली जेईई-मेन का सेंटर यहां होने के बावजूद एडवांस्ड परीक्षा का सेंटर किस आधार पर घोषित नहीं किया जा रहा। इससे छात्राओं को भारी परेशानी उठानी पड़ेगी।

श्रीलंका व इथोपिया से हटाए सेंटर, यूएसए में होगी परीक्षा
जेईई-एडवांस्ड-2020 के चेयरमैन प्रो. सिद्धार्थ पांडे के अनुसार, वर्ष 2019 में इस प्रवेश परीक्षा के लिए विदेश में 6 शहर दुबई, ढाका, अदिस अबाबा (इथोपिया), काठमांडु, कोलम्बो (श्रीलंका), सिंगापुर में सेंटर बनाए गए थे, लेकिन जेईई-एडवांस्ड-2020 के लिए विदेश में श्रीलंका व इथोपिया से परीक्षा केंद्र हटा लिए गए हैं। इन दोनों शहरों में इसके परीक्षार्थी नहीं थे। जबकि पहली बार अमेरिका में इसका परीक्षा केन्द्र खोला है। इसके साथ ही अब 5 देशों में यह परीक्षा होगी। पेपर-2 आधा घंटे पहले दोपहर 2 बजे से शुरू किया जाएगा, जिससे दिव्यांग परीक्षार्थियों को बायोमेट्रिक वेरिफि केशन में कोई असुविधा न हो।