स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बहुचर्चित प्रदीप हत्याकांड : नाकुछ बात पर बुझा दिया एक घर का चिराग...

Shailendra Tiwari

Publish: Sep 22, 2019 20:45 PM | Updated: Sep 22, 2019 20:45 PM

Kota

प्रदीप की हत्या के पांच आरोपी गिरफ्तार, चार दिन पहले विज्ञान नगर फ्लाईओवर के नीचे हुई थी हत्या

कोटा. चार दिन पहले देर रात विज्ञाननगर फ्लाईओवर के नीचे हुई प्रदीप उर्फ पप्पू पांचाल की हत्या के मामले में विज्ञाननगर पुलिस ने रविवार को की हत्या के आरोप में विज्ञाननगर पुलिस ने रविवार को पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। तीन आरोपी बृजराज कॉलोनी से पकड़े गए और अन्य एक व नाबालिग को सीमल्या से गिरफ्तार किया।

पुलिस द्वारा गठित टीम ने प्रदीप की कम्पनी के स्टाफ व अन्य लोगों से पूछताछ व अभय कमाण्ड सेन्टर की सहायता से हत्या के आरोप में खण्डगांवड़ी निवासी विष्णु सुमन उर्फ हनी (20), बृजराज कॉलोनी निवासी सूरज मेघवाल (19), निर्मल कुमार बंसीवाल (19) व कन्हैया उर्फ किशनलाल जैन मद्रासी (21) को गिरफ्तार कर लिया। वारदात में शामिल एक नाबालिग को भी निरुद्ध किया गया है। पुलिस के अनुसार कन्हैया पर नयापुरा थाने में धारा 13 आरपीजीओ व आम्र्स एक्ट 4/25 में मामले दर्ज है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।

Read More : निगम बैकफुट पर, सोनू निगम और गुरु रंधावा का कार्यक्रम रद्द , महंगे कलाकारों को बुलाने का फैसला बदला

फिर हुई जरा सी बात पर हत्या
आईपीएस डॉ. अमृता दुहन ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि जब प्रदीप कंपनी से काम कर के लौट रहा था। तो एरोड्रम-विज्ञान नगर रोड पर आरोपी प्रदीप की मोटरसाइकिल के आगे पीछे व बराबर में बाइक व स्कूटी चलाने लगे।

Read More : ऐसा क्या हुआ कि नगर निगम की नावें छतों पर जा चढ़ीं???

प्रदीप ने उन्हें ऐसा करने से मना किया तो वे उन्होंने विज्ञाननगर फ्लाईओवर के नीचे प्रदीप की मोटरसाइकिल रूकवाकर उससे मारपीट की और चाकू से वार किए। फेंफड़े में लगी घातक चोट व ज्यादा खून बहने से प्रदीप की मौके पर ही मौत हो गई।

Read More : इंद्रदेव 48 साल पुराना रिकॉर्ड तोडऩे पर आमादा

उन्होंने बताया कि प्रदीप के साथ मोटरसाइकिल पर कम्पनी का एक कर्मचारी भी था। आरोपियों ने उससे भी मारपीट की कोशिश की, लेकिन वह बचकर भाग निकला। उसी कर्मचारी ने इस घटना की सूचना कम्पनी के स्टाफ को दी।