स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फोटोशॉप से बदल देता था रीडिंग, ऐसे पकड़ा गया चालबाज मीटर रीडर

Mukesh Gaur

Publish: Oct 23, 2019 18:56 PM | Updated: Oct 23, 2019 18:56 PM

Kota

उपभोक्ताओं से सांठगांठ कर बदल देता था मीटर रीडिंग, शिकायत पर गिरफ्तार

कोटा. उपभोक्ताओं से सांठगांठ कर मीटरों की रीडिंग में हेरफर कर रहे मीटर रीडर को विज्ञाननगर पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। रीडर पर फोटोशॉप के माध्यम से रीडिंग के आंकड़ों को बदलने का आरोप है।
थानाधिकारी अमर सिंह राठौड़ ने बताया कि रिपोर्ट के अनुसार केईडीएल ने शहर में मीटर रीडिंग के लिए टेलीपर्फोमेंस ग्लोबल सर्विस प्राइवेट को ठेका दिया हुआ है। यह फर्म बिजली उपभोक्ताओं के घरों व संस्थानों में लगे मीटर की रीडिंग को नोट कर या मोबाइल से फोटो खींचकर केईडीएल को उपलब्ध कराती है। कंपनी को शिकायतें मिल रही थी, कि कॉन्ट्रेक्टर फर्म के कई मीटर रीडर उपभोक्ताओं के मीटरों की वास्तविक रीडिंग नहीं ला रहे। वे उपभोक्ताओं से सांठगांठ कर रीडिंग कम लिख रहे हैं। इसके अलावा खींचे गए फोटो की रीडिंग को भी फोटोशॉप से बदलकर कंपनी को नुकसान पहुंचा रहे हैं। केईडीएल द्वारा की गई जांच में सामने आया कि कॉन्ट्रेक्टर फर्म द्वारा नियुक्त मीटर रीडर कंसुआ निवासी विकास कर्णावत ने मीटरों की रीडिंग को कम किया। केईडीएल की शिकायत पर कॉन्ट्रेक्टर फर्म द्वारा कराई जांच में भी यह सही साबित हुआ। की जांच में भी यहीं बात साबित हुई। फर्म ने विकास को नौकरी से हटा दिया और सीनियर मैनेजर ललितराज ने इस मामले में विज्ञाननगर थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराई। इस पर पुलिस ने विकास कर्णावत को धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

read also : दो बल्ब और दो पंखों का बिल आया 75 करोड़ रुपए, मालिक निकला मजदूर

कई उपभोक्ताओं की भी जांच होगी
पुलिस अब उन उपभोक्ताओं की जांच कर रही है जो मीटर रीडर से सांठगांठ कर बिल की राशि कम करवाते थे। केईडीएल के सीओओ मुकेश गर्ग ने बताया कि ऐसे उपभोक्ताओं की छोड़ी गई रीडिंग को उनके वर्तमान बिल में जोड़कर भेजेंगे। उन्होंने उपभोक्ताओं को ऐसे रीडरों के बहकावे व लालच में नहीं आना चाहिए वरना उन पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।